बीसीसीआई की तरफ से सुरेश रैना को मिला जवाब

Enter caption
Enter caption

बीसीसीआई के एक ऑफिसियल ने सुरेश रैना और इरफान पठान के विदेशी लीग में खेलने वाली बात को लेकर प्रतिक्रिया दी है। सुरेश रैना ने इरफान पठान के साथ इंस्टाग्राम लाइव चैट के दौरान भारतीय खिलाड़ियों के विदेशी लीग में खेलने के ऊपर चर्चा की थी।

IANS के अनुसार, बीसीसीआई के ऑफिसियल ने कहा कि जो खिलाड़ी संन्यास के नजदीक हैं, अगर वो विदेशी लीग में खेलने की बात कर रहे हैं तो ये ठीक है, लेकिन फिर भी हमारे तरफ से कोशिश रहेगी कि भारतीय क्रिकेटर लीग में मामले में आईपीएल तक सीमित रहें और बिना कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों को आईपीएल में अच्छी रकम मिले। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य को देखते हुए इन खिलाड़ियों का ऐसा सोचना गलत नहीं है, लेकिन यह उनका निजी विचार है।

यह भी पढ़ें: बिना कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों को दूसरी लीग में खेलने की अनुमति मिलनी चाहिए - सुरेश रैना

सुरेश रैना ने कुछ खिलाड़ियों का उदाहरण भी दिया था

सुरेश रैना ने कहा था," मैं चाहता हूं कि बीसीसीआई, आईसीसी या फ्रेंचाइजी के साथ मिलकर कुछ प्लानिंग करे, ताकि बिना कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ी विदेशी टी20 लीग में हिस्सा ले सकें।" उन्होंने युसूफ पठान और रॉबिन उथप्पा जैसे खिलाड़ियों का उदाहरण दिया, जिनके पास फ़िलहाल कोई कॉन्ट्रैक्ट नहीं है। रैना ने कम से कम दो लीग में खेलने की अनुमति देने का विचार रखा।

इरफान पठान ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि हर देश में माहौल अलग होता है। माइकल हसी ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 29 साल की उम्र में डेब्यू किया, लेकिन भारत में कोई 30 साल की उम्र में डेब्यू नहीं कर सकता। इरफान ने कहा कि जो खिलाड़ी 30 साल से ऊपर के हैं और अगर भारत के लिए उनके खेलने की संभावना न के बराबर है, तो फिर उन्हें विदेशी लीग में खेलने की अनुमति मिलनी चाहिए।

गौरतलब है कि भारतीय खिलाड़ियों को आईपीएल के अलावा दुनिया के किसी भी टी20 लीग में खेलने की अनुमति नहीं है। बीसीसीआई इसके लिए एनओसी नहीं देती है। हालांकि अगर खिलाड़ी संन्यास ले चुका है तो उसे फिर एनओसी मिल सकती है। युवराज सिंह और जहीर खान जैसे खिलाड़ी इसका उदाहरण हैं, जिन्होंने ग्लोबल टी20 कनाडा में संन्यास लेने के बाद हिस्सा लिया था।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
App download animated image Get the free App now