Create

21वीं शताब्दी की सर्वश्रेष्ठ भारतीय वनडे इलेवन 

भारतीय क्रिकेट टीम 
भारतीय क्रिकेट टीम 

21 वीं शताब्दी वनडे क्रिकेट के लिहाज से शानदार रही। इस शताब्दी में बल्लेबाजों द्वारा नए-नए शॉट्स, गेंदबाजी में विविधताएं तथा फील्डिंग में काफी सुधार हुआ है। इस शताब्दी में कई टीमों ने शानदार प्रदर्शन किया और भारतीय क्रिकेट टीम भी इन्हीं टीमों में से एक है। भारत ने इस शताब्दी में क्रिकेट विश्व कप 2011 और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी का ख़िताब अपने नाम किया। इसके अलावा भारत 2011 के बाद से वनडे के सभी आईसीसी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल तक पहुँचने में कामयाब रहा है।

पिछले दो दशकों में भारत के लिए कई प्रतिभावान खिलाडियों ने डेब्यू किया है। इनमे से कई खिलाड़ी अभी भी टीम का हिस्सा हैं। हमने अपनी वनडे इलेवन में 5 बल्लेबाज, एक विकेटकीपर, एक ऑलराउंडर, एक स्पिनर तथा तीन तेज गेंदबाजों को शामिल किया है।

ये भी पढ़े- डेल स्टेन ने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों के नाम का खुलासा किया, दो भारतीय खिलाड़ी शामिल

आइये नजर डालते हैं भारत कि 21 वीं शताब्दी की सर्वश्रेष्ठ वनडे इलेवन पर:

# टॉप आर्डर (1-3)

# सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर

भारत की सर्वश्रेष्ठ वनडे इलेवन में ओपनर के रूप में सबसे पहले सचिन तेंदुलकर को चुना गया है। सचिन ने लम्बे समय तक भारत के लिए वनडे क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। बात की जाये 21 वीं शताब्दी में तेंदुलकर के प्रदर्शन की तो इन्होंने 46.70 की बल्लेबाजी औसत से 9855 रन बनाये हैं और इस दौरान 25 शतक भी जड़े हैं।

# रोहित शर्मा

रोहित शर्मा 
रोहित शर्मा

भारत के लिए दूसरे ओपनर के तौर पर रोहित शर्मा को चुना गया है। काफी लोग यहाँ पर सहवाग के होने की उम्मीद कर रहे होंगे लेकिन रोहित का प्रदर्शन सहवाग से बेहतर है। रोहित के नाम वनडे में 3 दोहरे शतक हैं और ऐसा करने वाले वो इकलौते बल्लेबाज हैं। चैंपियंस ट्रॉफी में ओपनर के तौर पर खेलने के बाद रोहित का प्रदर्शन शानदार रहा है। रोहित विश्व कप के एक संस्करण में में 5 शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। बतौर ओपनर रोहित ने 138 पारियों में 7148 रन बनाये है और उनका औसत 58.11 का है।

# विराट कोहली

विराट कोहली 
विराट कोहली

तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए हमने वर्तमान भारतीय कप्तान विराट कोहली को चुना है, जिन्हें आधुनिक समय में वनडे क्रिकेट का चेज मास्टर भी कहा जाता है। 2008 में अपना वनडे डेब्यू करने वाले कोहली ने 248 मैचों में 59.33 के शानदार औसत से 11867 रन बनाए हैं। कोहली 43 शतक के साथ वनडे में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे नंबर पर हैं।

# मध्यक्रम (4-5)

# राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़
राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ एक टेस्ट खिलाड़ी का शानदार उदाहरण हैं, जिन्होंने 50 ओवर के फॉर्मेट के अनुरूप अपने खेल को सफलतापूर्वक ढाला। द्रविड़ ने 1996 से 2011 तक अपने करियर के दौरान वनडे में कई बेहतरीन पारियां खेली। 21वीं शताब्दी के दौरान द्रविड़ ने 39.87 की औसत से 7298 रन बनाए जिसमें पांच शतक शामिल हैं। क्रीज पर लंबा समय बिताने की अपनी क्षमता के लिए मशहूर कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने वनडे और टेस्ट दोनों में 10000 से अधिक रन बनाए हैं ।

# युवराज सिंह

युवराज सिंह 
युवराज सिंह

युवराज सिंह भारत के सबसे बड़े मैच विनर्स में से एक हैं। युवराज ने भारत को 2011 विश्व जिताने में बल्ले और गेंद दोनों से ही कमाल का प्रदर्शन किया था। जब वह 2019 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से रिटायर हुए थे तो उन्होंने 304 मैचों में 36.50 की औसत से 8701 वनडे रन बनाए थे। युवी ने अपने करीब दो दशक लंबे करियर के दौरान 111 विकेट भी लिए ।

विकेटकीपर (6)

# महेंद्र सिंह धोनी - कप्तान

महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी

धोनी ने 350 मैचों में 50.60 की औसत से 10 हजार से अधिक वनडे रन बनाए हैं। धोनी ने भारत के लिए काफी समय तक फिनिशर की भूमिका निभाते हुए कमाल का प्रदर्शन किया। कई बार उन्होंने आखिरी ओवर में 10 से ज्यादा रन बनाकर टीम को मैच जितवाया है। सफल रन-चेज में 102.71 की औसत से धोनी इस लिस्ट में नंबर 6 के लिए सही खिलाड़ी हैं। धोनी के नाम वनडे में बतौर विकेटकीपर 444 शिकार दर्ज हैं। वो वनडे में सौ से ज्यादा स्टंपिंग करने वाले इकलौते विकेटकीपर हैं। धोनी की कप्तानी में ही टीम ने विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी जीती थी।

# ऑलराउंडर (7)

# इरफ़ान पठान

इरफ़ान पठान
इरफ़ान पठान

इस प्लेइंग इलेवन में हमने इरफ़ान पठान को नंबर 7 पर ऑलराउंडर के तौर पर शामिल किया है। पठान ने अपने वनडे करियर के 120 मैचों में 173 विकेट हासिल किये। पठान ने बतौर बल्लेबाज वनडे में 5 अर्धशतक सहित 1544 रन बनाये हैं। अपने करियर के दिनों में पठान की स्विंग गेंदबाजी ने दुनिया भर के बल्लेबाजों को परेशान कर रखा था।

पठान ठीक-ठाक बल्लेबाजी भी कर सकते थे इसी को देखते हुए उन्हें बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भी मौका दिया गया। चोट के चलते उनका करियर पटरी से उतर गया और आखिर के कुछ सालों में उन्हें ज्यादा मैचों में खेलने का मौका नहीं मिला था।

# गेंदबाज (8-11)

# हरभजन सिंह

हरभजन सिंह 
हरभजन सिंह

इस टीम में हमने बतौर स्पिनर हरभजन सिंह को चुना है। हरभजन ने अपने वनडे करियर में 247 विकेट झटके हैं। उन्होंने अपनी ऑफ स्पिन गेंदबाजी से दुनिया भर के बल्लेबाजों को छकाया है। हरभजन वनडे क्रिकेट में 3 बार पांच विकेट लेने का कारनामा भी कर चुके हैं।

# अजीत अगरकर

अजीत अगरकर 
अजीत अगरकर

अजीत अगरकर भारत के सबसे सफल तेज गेंदबाजों में से एक है। अगरकर ने अपने वनडे करियर में 288 विकेट लिए हैं, जिसमे से 215 विकेट उन्होंने 21 वीं शताब्दी में लिए हैं। अगरकर ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर बल्लेबाज की थी। अगरकर के अंदर विकेट लेने की काबिलियत थी और इसी वजह से वो अक्सर विकेट लेने में सफल रहते थे।

# ज़हीर खान

ज़हीर खान
ज़हीर खान

ज़हीर खान भारत के लिए इस शताब्दी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। जवागल श्रीनाथ के संन्यास के बाद ज़हीर ने लम्बे समय तक भारतीय तेज गेंदबाजी की अगुवाई की है। ज़हीर ने 200 वनडे मैचों में 282 विकेट अपने नाम किये हैं और वो भारत के लिए तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज हैं।

# मोहम्मद शमी

 मोहम्मद शमी 
मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी को इस सूची में तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में शामिल किया गया है। शमी को पुरानी गेंद से अच्छी मदद मिलती है और वो अपनी यॉर्कर्स के लिए मशहूर हैं। शमी ने भारत के लिए वनडे में 77 मैचों में 144 विकेट लिए हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment