Create

जन्मदिन विशेष: इंग्लैंड के महान खिलाड़ी कॉलिन काउड्रे का अंतर्राष्ट्रीय सफर

Ankit
Enter caption

इंग्लैण्ड के पूर्व महान बल्लेबाज कॉलिन काउड्रे का जन्म 24 दिसम्बर 1932 को मद्रास प्रेसीडेन्सी (ब्रिटिश इंडिया) में हुआ था। उन्होंने अपना टेस्ट पर्दापण 26 नवंबर 1954 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया। कोलिन ने 1954 से 1975 तक इंग्लैंड क्रिकेट टीम के लिये 114 टेस्ट खेले जिसमें उन्होंने 44.06 की औसत से 22 शतक लगाकर 7624 रन बनाए। एलिस्टेयर कुक (33) और केविन पीटरसन (23) ही लॉर्ड काउड्रे की तुलना में अधिक शतक बनाने वाले केवल दो इंग्लिश बल्लेबाज हैं। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में वो 'केंट काउंटी क्लब' की तरफ से खेलते थे। उन्होंने प्रथम श्रेणी में 100 शतक से ज्यादा शतक का कीर्तिमान अपने नाम किया है।

100 टेस्ट खेलने वाले इतिहास के पहले बल्लेबाज

अंतराष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में कॉउड्रे 100 टेस्ट खेलने वाले पहले बल्लेबाज भी बने। अपने सौवें मैच में शतक लगाकर उन्होंने अपने समर्थकों को खुश होने का एक और मौका दिया। वर्ष 1968 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध अपने सौवें मैच में कॉलिन ने 104 रनों की शानदार पारी खेली थी । दो दशक से भी ज्यादा समय तक कॉउड्रे ने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना प्रभाव छोड़ा।

अपने युग में कॉलिन ने छह अन्य टेस्ट खेलने वाले देशों के खिलाफ शतक बनाये और ऐसा कारनामा करने वाले वह पहले बल्लेबाज बने। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, भारत और पाकिस्तान, इन सभी के खिलाफ घर और बाहर दोनों जगह शतक बनाए।

प्रथम श्रेणी करियर

कॉलिन ने 692 प्रथम श्रेणी मैच खेले । उन्होंने अपने प्रथम श्रेणी कैरियर में 42719 रन बनाए। यह रन कोलिन ने 42.89 की औसत से बनाये। इस बीच उन्होंने 107 शतक व 231 अर्धशतक अपने नाम किये। उनका उच्चतम स्कोर 307 रन रहा।

उन्होंने प्रथम श्रेणी मैचों में गेंदबाजी भी की । कोलिन दायें हाथ से लेग स्पिन गेंदबाजी भी करते थे। उन्होंने 65 विकेट अपने नाम किये। उनका बॉलिंग बेस्ट 22 रन पर 4 विकेट रहा।

कॉलिन काउड्रे की कप्तानी

कॉलिन काउड्रे ने 27 टेस्ट मैचों में इंग्लैण्ड की कप्तानी की। अपनी कप्तानी में उन्होंने 15 मैच ड्रॉ करवाये और 8 मैच जीते। उन्हें अपनी कप्तानी में 4 टेस्ट में हार का मुंह भी देखना पड़ा। उन्होंने इंग्लैण्ड की ओर से सिर्फ दो ही सीरीज में पूर्ण कप्तानी की।

कोलिन ने वर्ष 1960 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ व 1967-68 में वेस्टइंडीज के खिलाफ कप्तानी की और दोनों सीरीज अपने नाम की।

मृत्यु

लॉर्ड काउड्रे की 4 दिसंबर 2000 को 67 वर्ष की आयु में दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment