Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

बॉक्सिंग डे टेस्ट का इतिहास और उससे जुड़े रोचक तथ्य

Enter caption
Modified 25 Dec 2018, 19:30 IST
फ़ीचर
Advertisement

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के बारे में हम सबने सुना है, लेकिन इसके इतिहास से कम ही लोग परिचित हैं। दरअसल यह परंपरा साल 1950 से शुरू हुई थी। तब से अमूमन हर साल ऑस्ट्रेलिया 26 दिसंबर से मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर एक टेस्ट मैच ज़रूर खेलता है। बॉक्सिंग डे क्रिसमस के बाद का दिन होता है और दुनियाभर में यह ईसाइयों के लिए छुट्टी और जश्न का दिन होता है। क्रिकेट के शौकीनों के लिए टेस्ट मैच से बेहतर मनोरंजन भला क्या हो सकता है! पूरे पांच दिन क्रिकेट का मज़ा, छठे दिन साल को आखिरी सलाम और सातवें दिन नए साल का स्वागत - इस तरह ये सात दिन का एक शानदार हॉलिडे पैकेज बन जाता है।

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच की परंपरा शुरू किए जाने से पहले 26 दिसंबर को मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के घरेलू टूर्नामेंट शेफ़ील्ड शील्ड का मैच भी खेला जाता था, जो बेहद लोकप्रिय हुआ करता था। वर्ष 1950 में मेलबर्न में पहली बार बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच खेला गया। हालांकि तब एशेज़ सीरीज़ का वह टेस्ट मैच 22 दिसंबर को शुरू हो गया था। 24 और 25 आराम का दिन था, और बॉक्सिंग डे को मैच के तीसरे दिन का खेल हुआ। वर्ष 1953 और 1967 के बीच मेलबर्न में बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच नहीं खेला गया। 1974-75 से आधुनिक बॉक्सिंग डे टेस्ट परंपरा की शुरुआत हुई। वर्ष 1980 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड ने बॉक्सिंग डे टेस्ट का अधिकार हासिल कर लिया। वर्ष 1989 में यह परंपरा टूटी, जब इस दिन ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच एकदिवसीय मैच खेला गया।

बॉक्सिंग डे टेस्ट से कई रोचक घटनाएं भी जुड़ी हुई हैं। वर्ष 1995 में अंपायर डैरेल हेयर ने श्रीलंकाई ऑफ-स्पिनर मुथैया मुरलीधरन को 'चकर' घोषित किया था। हेयर ने तीन ओवर में उन्हें सात बार 'नो बॉल' करार दिया। वर्ष 1994 में इंग्लैंड के खिलाफ शेन वॉर्न ने बॉक्सिंग डे टेस्ट में ही हैट्रिक ली थी और वर्ष 2006 में उन्होंने अपने 700 टेस्ट विकेट भी बॉक्सिंग डे टेस्ट में ही पूरे किए थे, और अपने होम ग्राउंड पर आखिरी मैच को यादगार बना दिया था। वर्ष 1999 में सचिन तेंदुलकर ने 166 रनों की शानदार पारी खेली थी। दूसरी पारी में मास्टर ब्लास्टर ने 52 रन बनाए थे, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम मैच जीतने में कामयाब रही थी।

हर चार साल में बॉक्सिंग डे टेस्ट ऐशेज़ सीरीज़ का हिस्सा होता है, यानि मेहमान टीम कंगारुओं की परंपरागत प्रतिद्वन्द्वी इंग्लैंड की टीम होती है, और इस बार बॉक्सिंग डे टेस्ट की मेहमान टीम भारत है।

Get Cricket News in Hindi here

Published 25 Dec 2018, 19:30 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit