Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

'सचिन को स्लेज मत करना, नहीं तो मुश्किल में पड़ जाओगे'

  • पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज गेंदबाज ने ब्रेट ली को ये सलाह दी थी
  • ब्रेट ली ने बताया कि गेंदबाजी मीटिंग में सचिन को लेकर क्या चर्चा होती थी
SENIOR ANALYST
न्यूज़
Modified 26 Apr 2020, 10:47 IST
ब्रेट ली और सचिन तेंदुलकर एक मैच के दौरान
ब्रेट ली और सचिन तेंदुलकर एक मैच के दौरान

ऑस्ट्रेलियाई टीम मैदान में अपने आक्रामक तेवरों के लिए जानी जाती है। रिकी पोंटिंग की अगुवाई में एक समय ऑस्ट्रेलियाई टीम लगभग अपराजेय थी। उस टीम में ब्रेट ली, ग्लेन मैक्ग्रा, मैथ्यू हेडन, एडम गिलक्रिस्ट और माइकल बेवन जैसे विश्व स्तरीय खिलाड़ी थी जो अकेले दम पर मैच जिताने की क्षमता रखते थे। वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम भी कंगारुओं को कड़ी टक्कर देती थी और उनमें भी सचिन तेंदुलकर को आउट करना ऑस्ट्रेलिया के लिए काफी मुश्किल होता था। ऑस्ट्रेलिया की टीम स्लेजिंग के लिए जानी जाती थी लेकिन सभी लोग तेंदुलकर को स्लेज करने से कतराते थे और इसका एक बड़ा उदाहरण पूर्व दिग्गज गेंदबाज ब्रेट ली ने दिया है।

ये भी पढ़ें: गौतम गंभीर और वसीम अकरम का मेरे ऊपर काफी बड़ा प्रभाव था-कुलदीप यादव

ब्रेट ली ने एक वाकये का जिक्र किया है, जब ग्लेन मैक्ग्रा ने उनसे कहा था कि सचिन तेंदुलकर से बात मत करना नहीं तो पूरे दिन मुश्किल में रहोगे। स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में ब्रेट ली बताया कि ग्लेन मैक्ग्रा हमेशा नए खिलाड़ियों को कहा करते थे कि सचिन से बात मत करना, नहीं तो तुम पूरे दिन दर्द में रहोगे। हम अपनी बॉलिंग मीटिंग में यही चर्चा करते थे कि सचिन से कुछ नहीं कहना है।

एक और दिग्गज गेंदबाज सकलैन मुश्ताक ने पीटीआई से बातचीत में बताया कि जब उन्होंने पहली बार सचिन तेंदुलकर की स्लेजिंग की थी तो वो काफी युवा खिलाड़ी थे। उन्होंने कहा कि अगर मैं सही हूं तो शायद वो 1997 की सीरीज थी, जब पहली बार मैंने सचिन को स्लेज किया था। इसके बाद वो मेरे पास आए और कहा कि मैंने तुम्हारे साथ कोई बुरा व्यवहार नहीं किया तो तुम मेरे साथ क्यों कर रहे हो। इसके बाद मैं झेंप गया कि अब उनसे क्या कहूं।

Published 26 Apr 2020, 10:47 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit