Create

मध्‍यप्रदेश को खिताब दिलाने वाले कोच चंद्रकांत पंडित ने बताया कि आईपीएल से कभी क्‍यों नहीं जुड़े

चंद्रकांत पंडित ने अपनी कोचिंग में मध्‍यप्रदेश को पहली बार रणजी ट्रॉफी चैंपियन बनाया
चंद्रकांत पंडित ने अपनी कोचिंग में मध्‍यप्रदेश को पहली बार रणजी ट्रॉफी चैंपियन बनाया
Vivek Goel

चंद्रकांत पंडित (Chandrakant Pandit) ने अपनी कोचिंग करियर में एक और ऐतिहासिक उपलब्धि जोड़ी जब उनके मार्गदर्शन में मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh Cricket team) ने पहली बार रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) खिताब जीता। ऐसा कम ही देखने को मिला है कि किसी टीम की जीत के बाद सबसे ज्‍यादा चर्चा उसके कोच की हो रही हो। मगर चंद्रकांत पंडित की जितनी तारीफ की जाए, उतनी कम है।

पंडित की मध्‍यप्रदेश ने बेंगलुरु के एम चिन्‍नास्‍वामी स्‍टेडियम पर 41 बार की चैंपियन मुंबई को छह विकेट से मात देकर पहली बार रणजी ट्रॉफी खिताब जीता। चंद्रकांत पंडित ने खुलासा किया कि 2012 में वो शाहरुख खान से मिले थे।

पंडित को कभी आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी से जुड़े हुए नहीं देखा गया। पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज पंडित को फ्रेंचाइजी से ऑफर तो मिले, लेकिन उन्‍हें वो अपनी स्‍टाइल का नहीं लगा।

चंद्रकांत पंडित ने एक किस्‍सा याद किया जब वो कोलकाता नाइटराइडर्स के सहमालिक और बॉलीवुड सुपरस्‍टार शाहरुख खान से 2012 आईपीएल के पहले मिले थे। पंडित से तब टीम के कोचिंग भूमिका के बारे में संपर्क किया गया था। मगर उन्‍होंने इस प्रस्‍ताव को ठुकरा दिया था क्‍योंकि वो किसी विदेशी कोच के अंडर में काम नहीं करना चाहते थे।

पंडित के हवाले से हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ने कहा, 'मैं पहले शाहरुख खान से मिला था, लेकिन मैं खुद को विदेशी कोच के अंडर में रखते हुए काम नहीं कर पाता हूं।' ध्‍यान दिला दें क‍ि शाहरुख खान के सह-मालिकाना हक वाली कोलकाता नाइटराइडर्स ने अपना पहला खिताब ऑस्‍ट्रेलियाई हेड कोच ट्रेवर बेलिस के अंडर में 2012 में जीता था।

चंद्रकांत पंडित 1999 रणजी ट्रॉफी फाइनल में मध्‍य प्रदेश के कप्‍तान थे, जिसे कर्नाटक ने मात दी थी। 23 साल बाद पंडित उसी मध्‍य प्रदेश टीम के कोच हैं और उन्‍हें आखिरकार सफलता मिली। पंडित ने पूरी कहानी के बारे में अपनी भावनाएं जाहिर की।

60 साल के पंडित ने कहा, 'प्रत्‍येक ट्रॉफी ने संतुष्टि दी, लेकिन यह विशेष है। मैं मध्‍य प्रदेश का कप्‍तान रहते हुए 23 साल पहले ये नहीं कर पाया था। इतने सालों में मुझे हमेशा महसूस होता था कि कुछ पीछे रह गया है। यही कारण है कि मैं इसके बारे में ज्‍यादा उत्‍सूक और भावुक हूं।'


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...