रणजी ट्रॉफी में रन बनाना आसान नहीं, चेतेश्वर पुजारा ने अपनी उम्र को लेकर जेम्स एंडरसन का दिया उदाहरण

चेतेश्वर पुजारा रणजी ट्रॉफी में लगातार रन बना रहे हैं
चेतेश्वर पुजारा रणजी ट्रॉफी में लगातार रन बना रहे हैं

टीम इंडिया के बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) का मानना है कि अभी उनके अंदर काफी क्रिकेट बची हुई है। उन्होंने अपनी उम्र को लेकर उठ रहे सवालों पर जेम्स एंडरसन और नोवाक जोकोविच जैसे खिलाड़ियों का उदाहरण दिया जो इतनी ज्यादा उम्र में भी लगातार बेहतर कर रहे हैं। पुजारा के मुताबिक रणजी ट्रॉफी में रन बनाना आसान नहीं होता है और वो जितना हो सके उतना खेलेंगे।

चेतेश्वर पुजारा भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज बल्लेबाज हैं। उन्होंने अपने करियर में अभी तक 103 टेस्ट मैच खेले हैं। इस दौरान पुजारा के बल्ले से 19 शतक और 35 अर्धशतक निकले हैं। वो टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए 7195 रन बना चुके हैं। फिलहाल टीम से बाहर चल रहे पुजारा अपनी वापसी के लिए रणजी ट्रॉफी में लगातार शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने पिछले मुकाबले में राजस्थान के खिलाफ 110 रनों की शतकीय पारी खेली थी। कई क्रिकेट दिग्गज पुजारा को जल्द से जल्द भारतीय टीम में शामिल करने की मांग कर चुके हैं।

उम्र मेरे लिए सिर्फ एक आंकड़ा भर है - चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा से जब पूछा गया कि क्या वो लंबे समय तक खेलेंगे तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने बड़ी प्रतिक्रिया दी। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक उन्होंने कहा,

निश्चित तौर पर जिस तरह से मैं बैटिंग कर रहा हूं और अपनी फिटनेस को बरकरार रख रहा हूं, मुझे अपने ऊपर पूरा भरोसा है। रणजी ट्रॉफी में रन बनाना आसान नहीं होता है। रणजी ट्रॉफी में डीआरएस नहीं होता है और कई बार अंपायर का फैसला आपके खिलाफ चला जाता है। अगर आपको रन बनाने हैं तो फिर काफी कड़ी मेहनत करनी होगी और अपने गेम को टॉप लेवल पर ले जाना होगा। उम्मीद है कि जिस लेवल पर भी मुझे खेलने का मौका मिलेगा, मैं उसमें अपना योगदान देने में सक्षम रहुंगा। मेरा ये मानना है कि उम्र सिर्फ एक आंकड़ा भर होता है। जेम्स एंडरसन 41 साल की उम्र में गेंदबाजी कर रहे हैं और नोवाक जोकोविच ने हाल ही में कहा था कि 35 अब नया 25 साल है।

Quick Links