Create
Notifications

आईपीएल पर रोक लगाने की मांग, सरकार को लिखा पत्र

आईपीएल ट्रॉफी
आईपीएल ट्रॉफी
Naveen Sharma

आईपीएल शुरू होने की तारीख सामने आ गई है लेकिन इसमें एक मुश्किल भी है। आईपीएल के स्पॉटन्सर विवो को रखने पर ऑल इंडिया ट्रेड फेडरेशन यानी सीइआईटी ने आपत्ति जताई है। आईपीएल को अनुमति नहीं देने के लिए फेडरेशन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर और गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है।

पत्र में सीएआईटी की तरफ से कहा गया है कि सीमा पर चीन से तनाव के चलते चीन विरोधी भावनाओं को बल मिला लेकिन बीसीसीआई ने सरकार के निर्णयों के विपरीत काम किया है। पत्र में कहा गया है कि चीनी कम्पनी विवो को स्पॉटन्सर रखना सरकार की नीतियों के विरुद्ध काम है।

यह भी पढ़ें:3 बल्लेबाज जो अपने पूरे वनडे करियर में एक बार भी छक्का नहीं लगा पाए

आईपीएल आयोजन पैसों का लालच दिखाता है

इस पत्र में यह भी कहा गया है कि एक तरफ कोरोना वायरस जैसे महामारी से विश्व भर में विम्बलडन और ओलम्पिक जैसे बड़े खेल आयोजन रद्द किये गए। दूसरी तरफ बीसीसीआई आईपीएल का आयोजन कर रहा है जिससे पैसों के प्रति लालच नजर आता है। सीआईएटी ने साफ़ तौर पर कहा कि आईपीएल आयोजन के लिए दी गई मंजूरी रद्द की जानी चाहिए।

आईपीएल अगले माह शुरू होगा
आईपीएल अगले माह शुरू होगा

गौरतलब है कि आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में यह तय किया गया था कि इस बार आईपीएल के लिए चीन की मोबाइल कम्पनी विवो को ही टाइटल स्पॉन्सर रखा जाएगा। क़ानूनी पहलुओं पर विचार करने के बाद ऐसा फैसला लिया गया। हालांकि फैन्स में इसके प्रति नाराजगी भी नजर आई। इसको लेकर अब भारतीय ट्रेंड फेडरेशन ने आगे आकर पत्र लिखा है।

आईपीएल का आयोजन 19 सितम्बर से होगा और 10 नवम्बर को अंतिम मुकाबला खेला जाएगा। यूएई में टूर्नामेंट आयोजित होगा जिसकी तैयारियां चल रही है। कोरोना वायरस के कारण एक सफल आयोजन की जिम्मेदारी बीसीसीआई के कन्धों पर होगी। टीमों को 24 खिलाड़ी से ज्यादा रखने की अनुमति नहीं मिलेगी। दोपहर 3 बजकर 30 मिनट और 7 बजकर 30 मिनट से मैचों का समय रखा गया है। देश-विदेश के कई खिलाड़ी आईपीएल शुरू होने को लेकर ख़ासा उत्साह में हैं। दर्शकों को भी टूर्नामेंट का बेसब्री से इंतजार है जो अगले महीने पूरा होगा। देखना होगा भारत से बाहर टूर्नामेंट कितना सफल रहता है।


Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...