Create
Notifications

आईपीएल में चयन नहीं होने से क्रिकेटर ने की आत्महत्या

Naveen Sharma

आईपीएल शुरू होने में एक महिना बाकी है लेकिन इस टूर्नामेंट में चयन नहीं होने से निराश होकर एक क्रिकेटर ने ख़ुदकुशी कर ली। करण तिवारी नामक इस खिलाड़ी ने आईपीएल में खेलने की उम्मीद जताई थी लेकिन उसका चयन इस साल आईपीएल में नहीं हुआ। इसके बाद उसने उदयपुर स्थित अपने दोस्त को फोन करके बताया कि आईपीएल में चयन नहीं हुआ और मैं ख़ुदकुशी कर रहा हूँ। दोस्त ने उसे ऐसा नहीं करने को कहा और समझाया लेकिन करण तिवारी ने अपने दोस्त की कोई बात नहीं सुनी।

फोन के बाद क्रिकेटर के दोस्त ने जब उसकी माँ और बहन को बताया तब तक वह फांसी के फंदे पर झूल चुका था। घर वाले उसके फ़्लैट पहुंचे और अस्पताल लेकर गए लेकिन तब तक सब खत्म हो चुका था। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। करण मुंबई के मलाड में एक फ़्लैट में रहता था।

यह भी पढ़ें:आईपीएल में 3 सबसे तेज अर्धशतक जड़ने वाले बल्लेबाज

आईपीएल में खेलने की थी इच्छा

करण को उसके दोस्त जूनियर डेल स्टेन के नाम से जानते थे। वह एक तेज गेंदबाज था इसलिए उसे दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन से कम्पेयर किया जाता था। करण ने सोमवार रात को फांसी का फंदा लगाकर ख़ुदकुशी कर ली। 27 वर्षीय इस क्रिकेटर की दिली इच्छा थी कि वह आईपीएल में खेले लेकिन ऐसा नहीं होने पर उसने मौत को गले लगा लिया।

  Ente

आईपीएल के लिए नीलामी प्रक्रिया और खिलाड़ियों को टीमों में शामिल करने की पूरी प्रक्रिया पिछले साल दिसम्बर में ही खत्म हो गई थी। मार्च में होने वाला आईपीएल इस साल सितम्बर में कोरोना वायरस के कारण हो रहा है। जीवन से बढ़कर कोई चीज नहीं है। इस तरह जिन्दगी समाप्त करने से परेशानियों का समाधान नहीं होता। मेहनत और लगन से किसी भी मंजिल को हासिल किया जा सकता है।

आईपीएल में खेलने की इच्छा कई युवा खिलाड़ियों की होती है लेकिन सभी को एक साथ मौका मिलना मुश्किल होता है। उचित समय और शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को मौका मिला भी है। भारतीय टीम के कई खिलाड़ी इस तरह आईपीएल खेलने के बाद टीम में आए हैं।


Edited by Naveen Sharma

Comments

Fetching more content...