दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर साधा निशाना

दानिश कनेरिया
दानिश कनेरिया

दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के खिलाफ एक बार फिर कुछ बातें कही हैं। उमर अकमल के बैन की अवधि आधी करने के बाद दानिश कनेरिया ने ऐसा किया है। भ्रष्टाचार के मामले को लेकर दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर जमकर निशाना साधा। दानिश कनेरिया ने कहा कि जीरो टोलरेंस की बात करते हुए भी उमर अकमल का बैन आधा कर दिया गया।

पीटीआई से बातचीत करते हुए दानिश कनेरिया ने कहा कि भ्रष्ट्राचार में जीरो टोलरेंस की नीति की बात करके उमर का बैन आधा कर दिया गया। यह दोषी भी साबित हो गया था। आमिर और आसिफ को भी वापसी का मौका मिला। मेरे मामले में ऐसा क्यों नहीं किया गया। मेरे बारे में कहते हैं कि मैं मजहब की बात करता हूँ। पक्षपात सबके सामने दिखता है तो मैं क्यों न बोलूं।

यह भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 12 गेंद से कम खेलने पर मैन ऑफ़ द मैच बने 3 खिलाड़ी

दानिश कनेरिया ने पूछा सवाल

दानिश कनेरिया ने कहा कि उमर अकमल ज्यादातर समय विवादों में घिरा रहा है। इसके बाद भी उसकी सजा आधी कर दी गई है। क्या उसने किसी को रिश्वत दी है? इसके बाद दानिश कनेरिया ने कहा कि मेरे बारे में कहा जाता है कि मैं हिन्दू की बात करता हूँ। मेरे बाद में इतने सालों तक कितने हिन्दू खिलाड़ी खेले। उन्हें एक भी हिन्दू खिलाड़ी खेलने लायक नहीं लगा, विश्वास करना मुश्किल है।

दानिश कनेरिया
दानिश कनेरिया

गौरतलब है कि दानिश कनेरिया को फिक्सिंग आरोपों के बाद आजीवन बैन कर दिया गया। हालांकि कनेरिया ने काउंटी क्रिकेट में फिक्सिंग की बात स्वीकार नहीं की थी। बाद में उन्होंने मान लिया और पीसीबी ने पूरी तरह उन पर प्रतिबन्ध लगा दिया। कनेरिया ने कई बार कहा भी है कि पाकिस्तान की राष्ट्रीय टीम में फिक्सिंग करने वाले सभी खिलाड़ी वापस टीम में आकर खेल गए। मेरे मामले में ऐसा नहीं है, मैं पाकिस्तान के लिए शिद्दत से खेला और बेहतरीन प्रदर्शन किया लेकिन काउंटी के मामले में मुझे वापसी के कभी मौका ही नहीं दिया गया।

कोरोना की शुरुआत में भी दानिश कनेरिया ने फंड जुटाने के लिए कुछ भारतीय खिलाड़ियों से अपील करते हुए कहा था कि वे मदद के लिए लोगों को कहें।

Quick Links

App download animated image Get the free App now