Create
Notifications
Advertisement

अम्पायरों के साथ जो रूट के बर्ताव पर दीप दासगुप्ता का बयान

ANALYST
Modified 25 Feb 2021
न्यूज़

पूर्व विकेटकीपर दीप दासगुप्ता का कहना है कि जिस तरह पिंक बॉल टेस्ट के पहले दिन इंग्लिश खिलाड़ियों ने अम्पायरों पर सवाल खड़े किये हैं, उसे देखकर मैं हैरान हूँ। दीप दासगुप्ता ने यह भी कहा है कि मैंने जो रूट (Joe Root) को इस तरह अम्पायरों पर सवाल खड़े करते हुए पहले कभी नहीं देखा। जो रूट को दो बार अम्पायरों से बातचीत करते हुए देखा गया था।

स्पोर्ट्स टुडे से दासगुप्ता ने कहा कि यह कहना मुश्किल है कि क्या हो रहा है क्योंकि आम तौर पर वे इस तरह नहीं होते हैं। वे महसूस करते हैं कि वे इस श्रृंखला को जीतने के बहुत करीब आ गए थे, यहां तक कि इस टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले ही डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए क्वालीफाई करने के करीब आ गए थे।

उन्होंने यह भी कहा कि पिच को देखते हुए, सिर्फ पिंक-बॉल टेस्ट की धारणा के कारण आप कहेंगे कि इंग्लैंड थोड़ा आगे है। लेकिन फिर वे 112 के लिए आउट हो गए, यह एक अलग तरह की सतह थी, आमतौर पर वह नहीं जिसे हम डे-नाइट टेस्ट के लिए देखते हैं।

जो रूट ने की अम्पायरों से बहस

जो रूट ने दो बार अम्पायरों से बहस की। पहली बार शुभमन गिल के स्लिप में बेन स्टोक्स द्वारा पकड़े गए कैच को लेकर सवाल खड़े किये गए। हालाँकि गेंद जमीन पर लगी थी और अम्पायर ने जल्दी अपना निर्णय दे दिया। इसके बाद रोहित शर्मा के स्टंपिंग मामले में भी निर्णय जल्दी दिया गया। रोहित शर्मा के मामले में भी फैसला सही था। रूट और इंग्लिश खिलाड़ी कह रहे थे कि निर्णय इतना जल्दी क्यों दिया जा रहा है, थोड़ी देरी करते हुए इसे अलग-अलग एंगल से देखा जाना चाहिए।

जो रूट के इस बर्ताव के बाद हर कोई हैरान था। आम तौर पर वह शांत रहते हैं लेकिन इस बार अम्पायरों से बहस करते हुए दिखे। रूट के मामले में ऐसा बहुत कम ही देखने को मिलता है।

Published 25 Feb 2021, 14:06 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now