Create

इस खिलाड़ी को अब भी टीम इंडिया में वापसी का भरोसा, फिनिशर की भूमिका निभाने को बेताब

भारतीय टीम
भारतीय टीम

विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम इस साल टी20 विश्‍व कप खिताब की सबसे प्रबल दावेदारों में से एक मानी जा रही है। टीम इंडिया का बल्‍लेबाजी क्रम और तेज गेंदबाजी आक्रमण शानदार है। आईसीसी के प्रतिष्ठित इवेंट के लिए भारतीय टीम को सबसे तगड़ी टीम माना जा रहा है।

हालांकि, कुछ ऐसे क्षेत्र जरूर हैं, जिसमें टीम इंडिया को सुधार की जरूरत है। भारतीय टीम को मिडिल ऑर्डर में कुछ सीनियर खिलाड़‍ियों की जरूरत है, जो मैच फिनिश कर सकें। इसके अलावा टीम को ऐसे स्पिनर्स की जरूरत भी है, जो युजवेंद्र चहल के साथ जोड़ी बना सके।

सबसे पहले भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर की बात करते हैं। टीम इंडिया के पास विराट कोहली, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, इशान किशन और भी कई विकल्‍प हैं, जिसमें से कुछ को ही आईसीसी इवेंट में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। अगर भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग की, तो फिर मिडिल ऑर्डर में भारत के पास अनुभव के मामले में गहराई नहीं बचेगी।

दिनेश कार्तिक एक ऐसे सीनियर बल्‍लेबाज हैं, जो स्‍क्‍वाड में मजबूत दावेदर बनकर जुड़ सकते हैं, लेकिन 2019 विश्‍व कप के बाद वह अपना स्‍थान राष्‍ट्रीय टीम से गंवा चुके हैं। उल्‍लेखनीय है कि चयनकर्ताओं ने कार्तिक को 50 ओवर के फॉर्म के आधार पर टीम से बाहर किया और इसके बाद से वह राष्‍ट्रीय टीम से बाहर ही रहे।

वैसे, दिनेश कार्तिक की वापसी अब मुश्किल लगती है, लेकिन सीनियर खिलाड़ी को पूरा भरोसा है कि अगर उन्‍हें मौका मिला, तो वो फिनिशर की भूमिका निभा सकते हैं।

कार्तिक के पास आईपीएल में खुद को साबित करने का मौका

दिनेश कार्तिक ने टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, 'टीम इंडिया को मिडिल ऑर्डर में बल्‍लेबाज की जरूरत है, जो फिनिशर हो और मेरा मानना है कि मैं उस जिम्‍मेदारी को निभा सकता हूं।'

दिनेश कार्तिक के पास टी20 विश्‍व कप में अपनी दावेदारी पेश करने का एक शानदार मौका है। बीसीसीआई ने पुष्टि कर दी है कि आईपीएल 2021 का दूसरा चरण यूएई में आयोजित होगा। अगर दिनेश कार्तिक बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं तो टी20 विश्‍व कप में उन्‍हें टीम इंडिया में जगह मिल सकती है।

जहां तक स्पिन विभाग की बात है तो टीम इंडिया को इसमें भी अच्‍छे खिलाड़ी की तलाश है क्‍योंकि कुलदीप यादव लंबे समय से टीम से बाहर हैं और युजवेंद्र चहल खुद कई मौकों पर प्‍लेइंग XI से बाहर रहे हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment