Create
Notifications

ऋद्धिमान साहा की दिनेश कार्तिक ने जमकर की तारीफ

दिनेश कार्तिक ने ऋद्धिमान साहा की जमकर तारीफ की
दिनेश कार्तिक ने ऋद्धिमान साहा की जमकर तारीफ की
Vivek Goel
visit

भारत (India Cricket team) के विकेटकीपर बल्‍लेबाज ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने न्‍यूजीलैंड (New Zealand Cricket team) के खिलाफ कानपुर में नाबाद 61 रन की पारी खेली, जिसकी दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने खूब तारीफ की। कार्तिक ने कहा कि वो यह देखकर खुश हुए कि 'कोई पुराने पैरों के साथ' हर किसी को बता रहा है कि कैसे यह किया जाता है।

ऋद्धिमान साहा जब क्रीज पर आए तब भारत 103/6 के स्‍कोर पर संघर्ष कर रहा था। उसकी बढ़त 152 रन हो चुकी थी। 37 साल के साहा ने गर्दन में जकड़न के कारण तीसरे दिन फील्डिंग नहीं की थी। साहा ने अय्यर और अक्षर पटेल के साथ मिलकर भारत का स्‍कोर 234/7 तक पहुंचा दिया। उन्‍होंने 126 गेंदों में चार चौके और एक छक्‍के की मदद से 61 रन बनाए।

दिनेश कार्तिक ने क्रिकबज चैटर शो पर कहा कि वो इस पारी की ज्‍यादा तारीफ इसलिए करेंगे क्‍योंकि केएस भरत के उदय से साहा पर अपनी जगह बरकरार रखने का बहुत ज्‍यादा दबाव था।

कार्तिक ने कहा, 'मुझे उनके बारे में अच्‍छा यह लगा कि उन्‍होंने इस टेस्‍ट में पूरा ध्‍यान लगाकर बल्‍लेबाजी की। यह उनकी आखिरी टेस्‍ट पारी साबित हो सकती थी क्‍योंकि केएस भरत को अगले टेस्‍ट में शामिल करने की मांग जोरों पर है। मगर मुझे ऋद्धिमान साहा को बल्‍लेबाजी करते देखकर ज्‍यादा अच्‍छा लगा क्‍योंकि वह मजबूत बल्‍लेबाज हैं। वो बहुत अच्‍छे हैं। उनके अंदर खुद से लड़ने की आदत है। आप जानते हैं, उसने गर्दन में जकड़न के साथ खेला और अपनी जगह के लिए राह बनाई। उसने स्‍टांस बदला, अलग तरह बल्‍लेबाजी की, लेकिन रन बनाए।'

कार्तिक ने कहा, 'यह देखकर अच्‍छा लगा कि कोई पुराने पैरों के साथ आकर और लोगों को धकेल रहा है और दिखा रहा है कि कैसे यह किया जाता है।' ऋद्धिमान साहा का अर्धशतक चार सालों में उनका पहला है। ऋषभ पंत के कारण ऋद्धिमान साहा को पिछले साल ऑस्‍ट्रेलिया में एडिलेड टेस्‍ट के बाद खेलने का मौका नहीं मिला, जिससे उनकी वापसी और भी विशेष हो जाती है।

जब भारत को जरूरत हो तो साहा आकर काम कर देते हैं: साइमन डूल

साइमन डूल ने ऋद्धिमान साहा को स्‍ट्रीट फाइटर करार दिया। डूल ने कहा, 'मैं साहा को स्‍ट्रीट फाइटर कहूंगा। मुझे उम्‍मीद है कि वो इसका बुरा नहीं मानेगा। मेरे लिए वो ऐसा खिलाड़ी है कि जब स्थितियां बहुत ज्‍यादा मुश्किल हो तो वह फाइटर बन जाता है। वो ऐसा व्‍यक्ति है जो आता है टीम की मुश्किल से निकाल देता है।'

अगर ऋद्धिमान साहा ने अपनी फिटनेस बरकरार रखी तो दक्षिण अफ्रीका दौरे पर उन्‍हें खुद को साबित करने का मौका मिल सकता है।


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now