Create
Notifications

"फ्रेंचाइजी क्रिकेट का अनुभव ठीक, लेकिन लाल गेंद की क्रिकेट होती है बिलकुल अलग"- ब्रेंडन मैकलम को लेकर दिनेश कार्तिक का बड़ा बयान

Australia v India - ODI: Game 1
Australia v India - ODI: Game 1
Neeraj

हाल ही में इंग्लैंड क्रिकेट टीम के टेस्ट कोच बनने वाले ब्रेंडन मैकलम (Brendon Mccullum) को लेकर भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने बड़ा बयान दिया है। कार्तिक ने कहा है कि मैकलम एक शानदार कोच हैं, लेकिन इंटरनेशनल क्रिकेट में वह कितने सफल होते हैं यह उस बात पर निर्भर होगी कि वह परिस्थितियों के साथ कितनी जल्दी खुद को ढाल ले जाते हैं। कार्तिक ने मैकलम की खूब तारीफ करते हुए यह भी कहा है कि वह काफी पॉजिटिव तरीके से काम करने वाले व्यक्ति हैं। कार्तिक ने कहा,

उनके साथ बिताए लंबे समय के बाद मैं एक चीज आपसे कह सकता हूं कि उनके अंदर किसी तरह की निगेटिव चीज नहीं है। वह ऐसे व्यक्ति हैं जो हर चीज को पॉजिटिव तरीके से करना चाहते हैं। यह देखना काफी दिलचस्प हो जाएगा जब बेन स्टोक्स और ब्रेंडन मैकलम साथ होंगे और यह खोजने की कोशिश करेंगे कि इंग्लैंड क्रिकेट के लिए क्या पॉजिटिव चीजें की जा सकती हैं।

"बड़े चैलेंज के रूप में मैकलम ने स्वीकार किया है यह जॉब"- कार्तिक

2019 में कार्तिक और मैकलम कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए साथ काम कर चुके हैं। उस सीजन में कार्तिक खिलाड़ी के साथ ही टीम के कोच भी बनाए गए थे। दोनों ने तीन सीजन तक मिलकर काम किया था। 2021 में भले ही कार्तिक कोलकाता के कप्तान नहीं थे, लेकिन वह एक अहम खिलाड़ी के रूप में टीम के साथ मौजूद थे और टीम उपविजेता रही थी। टेस्ट क्रिकेट की कोचिंग को लेकर कार्तिक ने कहा,

मेरे ख्याल से कई ऐसी चीजें होंगी जो मैकलम के लिए नई होंगी। भले ही उन्होंने फ्रेंचाइजी क्रिकेट में कोचिंग की है, लेकिन मेरे हिसाब से लाल गेंद की क्रिकेट का अलग ही महत्व है। मुझे लगता है कि मैकलम ने इस जॉब को इसलिए स्वीकार किया है क्योंकि उन्हें इसमें बड़ा चैलेंज दिखाई देता है। वह ऐसी टीम के साथ जुड़े हैं जिसने टेस्ट में पिछले दो साल से अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...