Create
Notifications

लॉर्ड्स में शतक लगाने वाले जो रुट की पूर्व भारतीय दिग्गज ने की जमकर प्रशंसा 

जो रुट
जो रुट
Prashant Kumar
visit

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच लॉर्ड्स टेस्ट में जहाँ पहले दिन हमें केएल राहुल (KL Rahul) की शानदार शतकीय पारी देखने को मिली, मैच के तीसरे दिन इंग्लैंड के कप्तान जो रुट (Joe Root) की लाजवाब बल्लेबाजी देखने को मिली। एकतरफ भारतीय गेंदबाज अन्य इंग्लिश बल्लेबाजों को परेशानी में डाले हुए थे लेकिन रुट के सामने उनकी योजनाएं सफल नहीं हो पाई और इंग्लैंड की पारी समाप्त होने तक वह अंत तक नाबाद रहे। रुट के लगातार दूसरे शतक के बाद सभी ने उनको सराहा और अब इसी कड़ी में पूर्व भारतीय टेस्ट स्पेशल वीवीएस लक्ष्मण का नाम भी शामिल हो गया।

लक्ष्मण ने रुट की लॉर्ड्स में की गयी बल्लेबाजी की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि दाएं हाथ का यह बल्लेबाज अतिरिक्त जिम्मेदारी का लुत्फ उठा रहा है और और उसमें से सर्वश्रेष्ठ हासिल कर रहा है। लक्ष्मण ने ईएसपीएनक्रिकइंफो के हवाले से कहा,

"पूरी तरह से टेस्ट मैच वाला शतक। हमने नॉटिंघम में भी ऐसा ही देखा। मुझे लगता है कि वो इस बात का लुत्फ़ उठा रहे हैं कि जिम्मेदारी उन पर है, कप्तान जो रुट और बल्लेबाज जो रुट। मुझे लगता है कि अतिरिक्त जिम्मेदारी उनसे सर्वश्रेष्ठ हासिल कर रही है।इस टेस्ट सीरीज़ में आगे बढ़ते हुए, बहुत सारी बातें हुईं - क्या जो रूट निरंतर रहेंगे? क्या वह उन अर्धशतकों को बड़े शतकों में बदल सकते हैं? कमजोर इंग्लिश बल्लेबाजी लाइन-अप के बारे में बहुत सारी बातें थीं। "
"आलोचना को बंद करने का सबसे अच्छा तरीका प्रदर्शन करना है। और जब यह सबसे ज्यादा मायने रखता है तो प्रदर्शन करना। ठीक वैसा ही जो रूट ने नॉटिंघम में और आज किया। "

लक्ष्मण ने रुट को विश्वस्तरीय बल्लेबाजों में से एक बताया

Joe Root and Kane Williamson shouldn't be compared to Virat Kohli and Steve  Smith: Gautam Gambhir - Sports News

वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि रुट भी उसी श्रेणी के बल्लेबाज हैं, जिस श्रेणी के बल्लेबाज विराट, विलियमसन और स्मिथ हैं। इसके अलावा उन्होंने बाबर आज़म को भी इसी श्रेणी में शामिल किया।

"मैंने हमेशा महसूस किया कि जो रूट, विराट कोहली, केन विलियमसन, स्टीव स्मिथ और मैं इसमें बाबर आजम को भी शामिल करूंगा, ये पांच खिलाड़ी उच्चतम स्तर पर शानदार बल्लेबाज हैं। उनके बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि वे युवाओं के लिए आदर्श रोल मॉडल हैं और वे उन जिम्मेदारियों और चुनौतियों का सामना करते हैं, जो उनके सामने आती हैं। "

लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लिश कप्तान जो रुट अकेले ही भारतीय टीम और अपनी टीम के बीच खड़े रहे और उन्होंने लगातार रन बनाते हुए अपनी टीम को बढ़त हासिल करवाई। रुट ने इंग्लैंड की पहली पारी में 321 गेंदों का सामना करते हुए 18 चौकों की मदद से नाबाद 180 रन बनाये।


Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now