Create

इंग्लैंड के फ्यूचर टूर प्लान में दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड दौरा शामिल

इंग्लैंड की टीम का शेड्यूल काफी पैक हो जाएगा
इंग्लैंड की टीम का शेड्यूल काफी पैक हो जाएगा
reaction-emoji
Naveen Sharma

इंग्लैंड की टीम साल 2023 की शुरुआत में न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर जाएगी। पिछले साल नवम्बर में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप 2022 में शिफ्ट होने के कारण ऑरिजनल कार्यक्रम में थोड़ा परिवर्तन देखा गया है। 2023 में फरवरी-मार्च के दौरान भारत में एकदिवसीय वर्ल्ड कप का आयोजन भी होना है।

ESPNcricinfo की रिपोर्ट के अनुसार इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने अगस्त 2022 में होने वाले बांग्लादेश दौरे को मार्च 2023 तक खिसका दिया है। बीच में बचे हुए गैप को भरने के लिए ईसीबी ने 2023 की शुरूआत में दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड दौरे के लिए टीम भेजने की तरफ देखेगी।

दक्षिण अफ्रीका के दौरे में तीन एकदिवसीय मैच होंगे और सीरीज विश्व कप सुपर लीग का हिस्सा होगी। सीरीज शुरू में दिसंबर 2020 के लिए निर्धारित की गई थी। इसके बाद कोरोना वायरस के फैलाव की वजह से सब बंद हो गया। कई दौरों को उस समय रद्द करना पड़ा था।

इसके बाद इंग्लैंड फरवरी में दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए न्यूजीलैंड की यात्रा करेगा, जो विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा नहीं है और इस साल जून में डब्ल्यूटीसी फाइनल से ठीक पहले न्यूजीलैंड के दौरे के बदले में वे इस सीरीज में खेलेंगे। कीवी टीम भी जब इंग्लैंड में गई थी, उस समय वह सीरीज भी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा नहीं थी।

इंग्लिश बोर्ड ने कार्यक्रम में कुछ बदलाव भी किया है
इंग्लिश बोर्ड ने कार्यक्रम में कुछ बदलाव भी किया है

इंग्लैंड टीम अब 2022-23 सर्दियों में पांच अलग-अलग देशों में पुरुषों की द्विपक्षीय सीरीज खेलने के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप भी खेलेगी। अगले साल सितम्बर में इंग्लिश टीम पाकिस्तान में सात टी20 मैच खेलेगी। इसके बाद तीन टी20 और तीन वनडे ऑस्ट्रेलिया में खेलेगी। यह सीरीज टी20 वर्ल्ड कप से पहले या बाद में हो सकती है। इसके बाद दिसम्बर में इंग्लिश टीम एक बार फिर से पाकिस्तान दौरे पर आएगी। इस बार तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी। इसके बाद 2023 की शुरुआत में वे दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड में खेलेंगे।


Edited by Naveen Sharma
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...