COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

England vs India, 2nd Test: चौथे दिन बने सभी आंकड़ों पर एक नज़र

9   //    13 Aug 2018, 00:23 IST

इंग्लैंड ने भारत को लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट में एक पारी और 159 रनों के बड़े अंतर से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है। पहली पारी में सिर्फ 107 रन बनाने वाली भारतीय टीम दूसरी पारी में भी 130 रन बनाकर ही ढेर हो गई। इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी 396/7 के स्कोर पर घोषित की थी और उन्हें 289 रनों की विशाल बढ़त हासिल हुई थी। क्रिस वोक्स (137* एवं 4 विकेट) को उनके शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया।

आइये नज़र डालते हैं चौथे दिन बने सभी आंकड़ों पर:

# विराट कोहली की कप्तानी में खेले गए 37 टेस्ट में भारत की पारी के अंतर से पहली हार। इससे पिछली बार लगभग चार साल पहले ओवल में इंग्लैंड ने ही भारत को पारी के अंतर से हराया था।

# स्टुअर्ट ब्रॉड के नाम अब टेस्ट क्रिकेट में 120 मैचों में 424 विकेट हैं और वह सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में दसवें स्थान पर पहुंच चुके हैं। लॉर्ड्स टेस्ट की दूसरी पारी में चार विकेट लेकर उन्होंने डेल स्टेन और शॉन पोलक (421) का रिकॉर्ड तोड़ा।

# जेम्स एंडरसन (553) ने 140 टेस्ट में 550 विकेट पूरे किये और ऐसा करने वाले सिर्फ पांचवें गेंदबाज बने। इसके अलावा लॉर्ड्स में भी उन्होंने अपने 100 विकेट पूरे किये। गौरतलब है कि लॉर्ड्स में एंडरसन ने अभी तक 23 टेस्ट खेलकर 103 विकेट लिए हैं, लेकिन उन्हें आज तक यहाँ कभी मैन ऑफ़ द मैच नहीं मिला।

# आर अश्विन (29 एवं 33*) ने भारत की तरफ से दोनों पारियों में सबसे ज्यादा रन बनाये और नंबर आठ या उससे नीचे के बल्लेबाज के तौर पर ऐसा करने वाले विश्व के छठे और भारत के पहले बल्लेबाज बने।

# मुरली विजय दोनों पारियों में खाता खोले बिना आउट हो गए। भारतीय सलामी बल्लेबाल के तौर पर विजय के अलावा पंकज रॉय (1952 vs इंग्लैंड), फारूख इंजीनियर (1975 vs वेस्टइंडीज़), वसीम जाफर (2007 vs  बांग्लादेश), वीरेंदर सहवाग (2011 vs इंग्लैंड) और शिखर धवन (2015 vs दक्षिण अफ्रीका) ने यह अनचाहा रिकॉर्ड बनाया है।

# भारत की तरफ से एक ही मैच में दो बल्लेबाजों के दोनों पारियों में 0 पर आउट होने का रिकॉर्ड चौथी बार बना। मुरली विजय और कुलदीप यादव से पहले बिशन सिंह बेदी/भगवत चंद्रशेखर (1975 vs इंग्लैंड), मनिंदर सिंह/दिलीप दोषी (1982 vs पाकिस्तान) और हरभजन सिंह/आशीष नेहरा (2002 vs वेस्टइंडीज) के नाम यह रिकॉर्ड था।

# आदिल राशिद ऐसे 14वें खिलाड़ी बने, जिनके बिना किसी योगदान के टीम ने टेस्ट जीत हासिल की। राशिद ने इस मैच में न कोई विकेट लिया, न ही बल्लेबाजी की, न कोई रन आउट किया और न ही एक भी कैच पकड़ा।

# जो रुट का भारत के खिलाफ लगातार 12 टेस्ट मैचों से चला आ रहा एक अनोखा रिकॉर्ड लॉर्ड्स में टूट गया। इससे पहले रुट ने भारत के ख़िलाफ हर टेस्ट में कम से कम एक अर्धशतक जरूर लगाया था, लेकिन लॉर्ड्स टेस्ट की एकमात्र पारी में वह सिर्फ 19 रन बना सके।

ANALYST
Cricket is my reason for living
Fetching more content...