Create
Notifications

5 भारतीय खिलाड़ी जिनका वर्ल्ड कप 2019 में खेलने का सपना टूटने वाला है

Enter caption
Neeraj
visit

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का चयन कल होना है और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) क्रिकेट के महाकुंभ के लिए बेस्ट टीम चुनने की कोशिश करेगी। टीम में कुछ खिलाड़ियों की जगह तो लगभग पक्की है तो वहीं कुछ खिलाड़ियों ने हाल के अपने प्रदर्शन से भारतीय टीम में अपनी जगह के लिए दावा पेश किया है है।

जब भारतीय टीम का सिलेक्शन किया जाएगा तो कहीं न कहीं सिलेक्टर्स के दिमाग में यह बात रहेगी कि जिन भी खिलाड़ियों को चुना जाए उनके पास इंटरनेशनल लेवल का अनुभव हो क्योंकि इंग्लैंड के कंडीशन में खुद को ढालना किसी भी नए खिलाड़ी के लिए काफी बड़ी चुनौती होगी।

हालांकि, कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिनका भारत के लिए इस वर्ल्ड कप में खेलने का सपना टूट सकता है। भारतीय टीम के चुनाव से पहले एक नजर डालते हैं उन 5 खिलाड़ियों पर जिनका इस वर्ल्ड कप में खेलने का सपना टूटने वाला है।

#5 उमेश यादव

India v Australia - T20I: Game 1

भारत के लिए 75 वनडे मैचों में 106 विकेट लेने वाले दाएं हाथ के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने लगभग छह महीने पहले भारत के लिए अपना आखिरी वनडे इंटरनेशनल मुकाबला खेला था। वर्तमान समय में आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए भी उमेश का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है।

भारतीय टीम में तेज गेंदबाजी का जिम्मा जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार को मिलने की पूरी संभावना है और इस बात की उम्मीद नहीं की जा सकती है कि भारतीय सिलेक्टर्स वर्ल्ड कप के लिए तेज गेंदबाजी आक्रमण में कोई प्रयोग करने के बारे में सोचेंगे।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#4 रविचंद्रन अश्विन

India v Afghanistan - ICC CWC Warm Up Match

एक समय भारतीय स्पिन गेंदबाजी के अहम हिस्सा रहने वाले आर अश्विन के लिए चीजें सही नहीं चल रही हैं। 111 वनडे मैचों में 150 विकेट लेने वाले अश्विन ने आखिरी बार 30 जून, 2017 को भारत के लिए वनडे मुकाबला खेला था।

वर्तमान समय में भारतीय टीम की स्पिन गेंदबाजी की जिम्मा मुख्य रूप से युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को सौंप दिया गया है और यही कारण है कि रविन्द्र जडेजा को भी बड़ी मुश्किल से ही टीम में जगह मिल पाती है। इतने लंबे समय से टीम से बाहर होने और वर्तमान स्पिन जोड़ी से कोई छेड़छाड़ की उम्मीद नहीं होने की स्थिति में अश्विन का वर्ल्ड कप खेलने का सपना निश्चित रूप से टूटने वाला है।

#3 सुरेश रैना

England v India - 2nd ODI: Royal London One-Day Series

2011 वर्ल्ड कप विजेता भारतीय टीम का हिस्सा रहने वाले सुरेश रैना लंबे समय से भारतीय टीम से बाहर हैं। 226 वनडे मुकाबलों में 5 शतक और 36 अर्धशतक की बदौलत 5615 रन बनाने और 36 विकेट लेने वाले रैना ने जुलाई, 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ अपना आखिरी वनडे मुकाबला खेला था। रैना को लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने की वजह से टीम में अपनी जगह गंवानी पड़ी है।

फिलहाल भारतीय टीम में नंबर चार की जगह पर ही कोई बल्लेबाज दावा ठोक सकता है, लेकिन नंबर चार पर भी रैना की जगह बनती नहीं दिख रही है। केएल राहुल और अंबाती रायडु जैसे बल्लेबाज पहले से ही टीम में जगह बनाने के लिए लगातार सिलेक्टर्स के दरवाजे की घंटी बजा रहे हैं। भले ही रैना ने इस सीजन आईपीएल में चेन्नई के लिए कुछ अच्छी पारियां खेली हैं, लेकिन उनका वर्ल्ड कप खेलने का सपना टूटने वाला है।

#2 युवराज सिंह

India v Pakistan - ICC Champions Trophy

आईपीएल 2019 के शुरु होने से पहले युवराज सिंह ने संकेत दिए थे कि वह इस टूर्नामेंट के जरिए वर्ल्ड कप के लिए एक बार फिर भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए अपनी दावेदारी पेश करेंगे, लेकिन कई बार चीजें आपके हिसाब से नहीं हो पाती हैं और युवराज के साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है। मुंबई इंडियंस द्वारा खरीदे जाने के बाद युवराज ने टूर्नामेंट की शुरुआत शानदार तरीके से की थी।

अपने पहले मुकाबले में ही युवराज ने शानदार अर्धशतक लगाया था और फिर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ युजवेंद्र चहल के खिलाफ छक्कों की हैट्रिक लगाकर उन्होंने विंटेज युवराज की झलक दिखाई थी। सबकुछ पॉजिटिव होते हुए भी चार मैचों में 98 रन बनाने वाले युवराज को बेंच पर बैठा दिया गया है और इसी के साथ उनका वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह बना पाने का सपना भी टूट गया है।

#1 श्रेयस अय्यर

South Africa v India - 5th Momentum ODI

श्रेयस अय्यर ने भारत के लिए छह मुकाबलों में दो अर्धशतकों की बदौलत 210 रन बनाए हैं, लेकिन उन्हें आखिरी बार नीली जर्सी में खेलने का मौका 16 फरवरी, 2018 को मिला था। अय्यर शानदार बल्लेबाज हैं और टॉप ऑर्डर से लेकर मिडिल ऑर्डर तक कहीं भी खेलने की क्षमता रखते हैं। अय्यर फिलहाल आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी कर रहे हैं और इस सीजन उन्होंने कुछ अच्छी पारियां भी खेली हैं।

हालांकि, भारतीय टीम में ओपनिंग जोड़ी और नंबर तीन का पोजीशन तय है तो वहीं मध्यक्रम में एमएस धोनी के साथ केदार जाधव को मौका दिया जा सकता है। यदि अय्यर नंबर चार पर अपना दावा ठोकते भी हैं तो केएल राहुल का प्रचंड फॉर्म और अय्यर से ज़्यादा अनुभव को हमेशा तरजीह दी जाएगी। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि अय्यर को भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now