Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2020: गौतम गंभीर ने आईपीएल में खुद के बुरे दौर के बारे में बताया

गौतम गंभीर
गौतम गंभीर
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 29 Oct 2020, 22:39 IST
न्यूज़
Advertisement

जब आईपीएल के सबसे सफल कप्तानों की बात आती है, तो रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और एमएस धोनी (MS Dhoni) के नाम जो दो नाम स्वतः ही सामने आ जाते हैं, लेकिन आश्चर्यजनक रूप से गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) के नाम का कोई उल्लेख नहीं करता है। रोहित शर्मा और धोनी के अलावा गौतम गंभीर एकमात्र ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने दो या उससे ज्यादा बार अधिक बार आईपीएल खिताब जीता है। कोलकाता नाइटराइडर्स को 2012 और 2014 में गौतम गंभीर की कप्तानी में जीत मिली। गौतम गंभीर ने अपने खराब फेज के बारे में बताया है।

गौतम गंभीर ने कप्तान के रूप में खराब फॉर्म को लेकर क्रिकेट डॉट कॉम से कहा कि यह सिर्फ मानसिकता दिखाता है। आपने कप्तानी छोड़ दी क्योंकि आप बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करना चाहते थे, लेकिन तब यह काम नहीं किया, इसलिए आपको जिम्मेदारियां लेनी होती है। शायद कभी-कभी यह अच्छा होता है। गौतम गंभीर का इशारा उस तरफ था जहाँ दिनेश कार्तिक ने आईपीएल के बीच में ही केकेआर की कप्तानी छोड़ दी।

गौतम गंभीर ने खुद के बारे में बताया

गौतम गंभीर ने अपने बारे में बताया कि 2014 में जब मैं एक बुरे दौर से गुज़र रहा था तब मुझे एहसास हुआ था। टूर्नामेंट शुरू होने पर मैं लगातार तीन बार जीरो पर आउट हुआ। यह कप्तानी थी जिसने मुझे मदद की कि मैं फॉर्म में वापस आ सका। गंभीर ने कहा कि इस कारण से कि जब मैं बल्लेबाजी नहीं कर रहा था, मैं इस बारे में सोच रहा था कि टीम को मेरी कप्तानी और निर्णय लेने के तरीके से कैसे जीता जाए। लेकिन जब आप कप्तानी नहीं कर रहे हैं, तो आप अपनी बल्लेबाजी के बारे में और भीज्यादा सोच रहे होते हैं।

गौरतलब है कि केकेआर के लिए दिनेश कार्तिक की बल्लेबाजी सही नहीं रही। जिस समय उन्होंने कप्तानी छोड़ी उस समय टीम अंक तालिका में चार नम्बर पर थी। बल्लेबाजी पर ध्यान लगाने के लिए उन्होंने कप्तानी छोड़ी लेकिन बल्लेबाजी में ज्यादा सुधार नहीं दिखा है।

Published 29 Oct 2020, 22:39 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit