Create
Notifications

गौतम गंभीर की श्रीलंका के खिलाफ खेली गई 3 बेहतरीन पारियां

गौतम गंभीर
गौतम गंभीर
सावन गुप्ता
visit

गौतम गंभीर भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के बहुत बड़े खिलाड़ी रहे हैं। जब-जब टीम को जरुरत पड़ी उन्होंने आगे बढ़कर जिम्मेदारी उठाई। इसका सबसे बड़ा उदाहरण हमें दो वर्ल्ड कप से मिलता है। 2007 के टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में उन्होंने 75 रनों की शानदार पारी खेली थी और भारतीय टीम को एक चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया था।

इसके बाद जब 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में टीम ने जल्दी-जल्दी अपने 2 विकेट गंवा दिए तब एक बार फिर उन्होंने पारी को संभाला और 97 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेली। शायद यही वजह है कि उन्हें बड़े मैच का प्लेयर कहा जाता है। गौतम गंभीर एक ऐसे खिलाड़ी थे जो आसानी से अपना विकेट नहीं गंवाते थे।

उन्होंने अपने करियर में टेस्ट मैचों में 4154 और वनडे में 5238 रन बनाए। इसके अलावा आईपीएल में भी उनके नाम 4 हजार से ज्यादा रन है। अपने करियर में गंभीर ने कई मैच जिताऊ पारियां खेली। इस दौरान उन्होंने खासकर श्रीलंका के खिलाफ कई यादगार पारियां खेली। हम आपको इस आर्टिकल में गौतम गंभीर की श्रीलंका के खिलाफ 3 बेहतरीन पारियों के बारे में बताएंगे। तो आइए जानते हैं कौन-कौन सी उनकी बेहतरीन पारी इस लिस्ट में है।

गौतम गंभीर की श्रीलंका के खिलाफ खेली गई 3 बेहतरीन पारियां

3. कोलंबो में 150 रनों की पारी (2009)

गौतम गंभीर
गौतम गंभीर

2009 में इस दौरे पर चौथे वनडे मुकाबले में भारत ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। ओपनिंग करने उतरे गौतम गंभीर ने श्रीलंकाई गेंदबाजी को अपनी टाइमिंग और फुटवर्क से खूब छकाया। कप्तान धोनी ने गंभीर का साथ दिया और दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 188 रन जोड़े।

धोनी के आउट होने के बाद भारत ने युवराज सिंह और इरफान पठान के विकेट भी जल्द ही गंवा दिए, लेकिन गंभीर ने अपनी शानदार बैटिंग जारी रखी। उन्होंने 147 गेंद पर 14 चौके और 1 छक्के की मदद से 150 रनों की पारी खेलकर टीम को 332 के स्कोर तक पहुंचा दिया। जवाब में श्रीलंका की टीम 265 रन ही बना पाई और भारतीय टीम ने 67 रनों से मुकाबला अपने नाम कर लिया।

ये भी पढ़ें: अगर रोहित शर्मा को आरसीबी की टीम दे दी जाती तो क्या वे इतने टाइटल जीत पाते ? - आकाश चोपड़ा

2.ईडेन गार्डेन कोलकाता में 150 रन

गौतम गंभीर
गौतम गंभीर

श्रीलंका के खिलाफ श्रीलंका में 150 रनों की पारी खेलने के बाद गौतम गंभीर ने उसी साल एक और इसी तरह की पारी खेली। इस बार उन्होंने कोलकाता के ईडेन गार्डेन मैदान में 150 रन बनाए। श्रीलंकाई कप्तान कुमार संगकारा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। उपुल थरंगा (118) और संगकारा (60) की पारियों की बदौलत श्रीलंका ने भारत को 316 रनों का लक्ष्य दिया। भारत की शुरूआत बेहद खराब रही और पहले 4 ओवरों में टीम ने सहवाग और तेंदुलकर के विकेट गंवा दिए।

इसके बाद गंभीर और विराट कोहली ने पारी को संभाला और दोनों ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 224 रन जोड़े। वनडे में तीसरे विकेट के लिए यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी थी। विराट कोहली (107) ने इस मैच में अपना पहला वनडे शतक जमाया। उनके आउट होने के बाद गंभीर ने और तेजी से रन बटोरना शुरू किया और वनडे में दूसरी बार 150 रनों के आंकड़े तक पहुंचे। भारत ने 9 गेंद शेष रहते ही मैच जीत लिया। मैच जिताने के बाद गौतम गंभीर ने अपना मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड विराट कोहली को दिया।

1.वर्ल्ड कप फाइनल में 97 रनों की पारी (2011)

गौतम गंभीर
गौतम गंभीर

भारत को 2011 वर्ल्ड कप जिताने में गंभीर की इस पारी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। इस ऐतिहासिक मुकाबले में श्रीलंका ने पहले खेलते हुए भारत के सामने 275 रनों का लक्ष्य रखा था। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग के विकेट जल्द गंवा दिए थे।

दबाव की इस स्थिति में गौतम गंभीर और विराट कोहली ने एक बार फिर पारी को संभाला। गंभीर ने कोहली के साथ मिलकर 83 रनों की साझेदारी की। इसके बाद कप्तान धोनी के साथ भी ऐतिहासिक साझेदारी की। हालांकि जब वो 97 रन पर पहुंचे तो एक बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में आउट हो गए लेकिन ये भारत की तरफ से इस फाइनल मुकाबले में सबसे बड़ी पारी थी और उनकी इस पारी को हमेशा याद रखा जाएगा।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now