Create

इंग्‍लैंड के तेज गेंदबाज ने कोविड-19 से ठीक होने के संघर्ष के बारे में बताया

जार्ज गार्टन ने बताया कि कोविड-19 से ठीक होने के दौरान भी कितना संघर्ष करना पड़ा
जार्ज गार्टन ने बताया कि कोविड-19 से ठीक होने के दौरान भी कितना संघर्ष करना पड़ा
Vivek Goel

इंग्‍लैंड (England Cricket team) के तेज गेंदबाज जॉर्ज गार्टन (George Garton) ने कहा कि कोविड-19 से ठीक होने के दौरान उन्‍हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जून 2021 में इंग्‍लैंड टीम के कई साथियों के साथ वायरस की चपेट में आए थे। तब इंग्‍लैंड को पाकिस्‍तान (Pakistan Cricket team) के खिलाफ सीरीज खेलनी थी।

इसके चलते इंग्‍लैंड को बेन स्‍टोक्‍स के नेतृत्‍व में एकदम अलग टीम मैदान में उतारनी पड़ी थी। गार्टन ने वायरस के अनुभव के बारे में बताया कि उन्‍हें एहसास हुआ कि जब वो नेट्स में गेंदबाजी करने की कोशिश कर रहे थे तो कुछ सही नहीं लग रहा था।

गार्टन के हवाले से ईएसपीएनक्रिकइंफो ने कहा, 'मुझे काफी हल्‍कापन महसूस हो रहा था और चक्‍कर भी आ रहे थे। मेरा शरीर कांप रहा था। तब मुझे एहसास हुआ कि कुछ तो ठीक नहीं है।' गार्टन ने इस साल वेस्‍टइंडीज के खिलाफ अपना टी20 इंटरनेशनल डेब्‍यू किया था। उन्‍होंने साथ ही बताया कि दो मिनट चलने के बाद उन्‍हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी।

गार्टन ने कहा, 'तब थोड़ा ज्‍यादा संघर्ष करना पड़ रहा था। मैं ग्राउंड से दो मिनट की दूरी पर रहता हूं। मैं पैदल चलकर ग्राउंड जाता और बैठकर आधे घंटे आराम करता क्‍योंकि मुझे सांस नहीं आ रही थी। अपने फ्लैट में सीढ़ी चढ़ना हो गया फिर घर के बाहर कचरा रखना, काफी संघर्ष करना पड़ रहा था। वो बहुत कठिन था।'

गार्टन द हंड्रेड में सदर्न ब्रेव के लिए इस समय खेल रहे हैं। अपने पहले मैच में बर्मिंघम फिनिक्‍स के खिलाफ गार्टन ने 15 गेंदों में 43 रन खर्च किए और एक भी विकेट नहीं ले सके।


Edited by Prashant Kumar

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...