सरफराज अहमद से हाथ नहीं मिलाने वाली घटना पर ग्लेन मैक्सवेल ने मांगी माफी

जिम्बाब्वे में हुई टी20 त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ हारने के बाद खेल भावना नहीं दिखाने वाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल ने माफी मांगी है। उन्होंने सरफराज अहमद से मैच के बाद हाथ नहीं मिलाया था और निकल गए थे। अपने ट्विटर पर उन्होंने एक लम्बा सन्देश लिखते हुआ घटना पर खेद जताते हुए कहा कि मुझे पाकिस्तानी टीम के होटल में जाकर सरफराज और टीम से मिलना है। गौरतलब है कि फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हरा दिया था इसके बाद मैक्सवेल ने सरफराज अहमद से हाथ नहीं मिलाया। वीडियो फूटेज में घटना साफ़ दिख रही थी। अपने संदेश में इस कंगारू ऑलराउंडर ने लिखा कि पाकिस्तान को जीत की बधाई, फखर जमान और शोएब मलिक नहीं रुकने वाले थे। जिम्बाब्वे दौरे का अंत हमारे लिए निराशाजनक रहा लेकिन आगे कई सकारात्मक चीजें होगी। अपने लम्बे नोट में मैक्सवेल ने आगे लिखा कि मैच के बाद हुई घटना खिलाड़ी की तरह नहीं दर्शाती। जैसा मैं खेलता हूँ वैसा भी नहीं है। मेरी तरफ से वास्तविक रूप से यह एक असावधानी थी। मै होटल में जाकर सरफराज से हाथ मिलाकर बधाई देना चाहता हूँ।

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में पहले खेलते हुए 8 विकेट पर 183 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया था।लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान ने बीसवें ओवर की दूसरी गेंद तक 4 विकेट पर आवश्यक रन बनाकर ट्रॉफी अपने नाम कर ली। फखर जमान ने 91 रन बनाए और शोएब मलिक 43 रन बनाकर नाबाद लौटे। टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया की टीम पर पाकिस्तान काफी भारी और हावी रही। जिम्बाब्वे हालाँकि कमजोर रही क्योंकि उनके लिए कई खिलाड़ी पहली बार खेल रहे थे। स्मिथ और वॉर्नर की अनुपस्थिति में ऑस्ट्रेलिया की स्थिति भी ठीक नहीं है। मैक्सवेल द्वारा अपनी गलती मानकर उसमें सुधार करने की पहल करने पर तारीफ की जानी चाहिए।

App download animated image Get the free App now