"मैं अपनी पत्‍नी से ज्‍यादा बार भारत गया हूं", टेस्ट में वापसी के लिए भारत दौरे को लेकर ग्लेन मैक्सवेल का बयान 

ग्‍लेन मैक्‍सवेल को उम्‍मीद है कि उन्‍हें टेस्‍ट टीम में वापस मौका जरूर मिलेगा
ग्‍लेन मैक्‍सवेल को उम्‍मीद है कि उन्‍हें टेस्‍ट टीम में वापस मौका जरूर मिलेगा

ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket team) के प्रमुख ऑलराउंडर ग्‍लेन मैक्‍सवेल (Glenn Maxwell) ने हाल ही में टेस्‍ट क्रिकेट में वापसी के बारे में बातचीत की और बताया कि अगले साल भारत दौरे (Australia's tour of India) पर वो ऑस्‍ट्रेलियाई टेस्‍ट स्‍क्‍वाड का हिस्‍सा बनना चाहते हैं।

भारत के खिलाफ 2013 में हैदराबाद में टेस्‍ट डेब्‍यू करने वाले ग्‍लेन मैक्‍सवेल अब तक केवल सात टेस्‍ट खेल सके हैं। उन्‍होंने आखिरी टेस्‍ट बांग्‍लादेश के खिलाफ 2017 में खेला था।

हाल ही में मैक्‍सवेल का चयन श्रीलंका दौरे पर दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज के लिए हुआ था, लेकिन दोनों मैचों में उन्‍हें प्‍लेइंग 11 में जगह नहीं मिली थी।

बिग बैश लीग 12 ड्राफ्ट लांच इवेंट में क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत में ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने भारतीय परिस्थितियों के बारे में अपनी जानकारी साझा की। मैक्‍सी का मानना है कि अगर अगले साल भारत दौरे पर उन्‍हें मौका मिलता है तो वो बल्‍ले से सफल हो सकते हैं।

ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने कहा, 'मैं भारत में अपनी भारतीय पत्‍नी से ज्‍यादा समय गया हूं। इसलिए मुझे लगता है कि वहां के क्षेत्र और लोगों को अच्‍छी तरह समझता हूं। वो ऐसी जगह है, जहां मैं सहज महसूस करता हूं और मैंने वहां काफी क्रिकेट खेली है। मुझे पता है कि अगर मौका मिला तो मैं सहज महसूस करूंगा और कहीं न कहीं जानता हूं कि सफल हो सकता हूं।'

ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने स्‍वीकार किया कि श्रीलंका दौरे पर टेस्‍ट स्‍क्‍वाड में जगह मिलने के बाद बैगी ग्रीन टोपी पहनने की उनकी इच्‍छा दोबारा जगी। टेस्‍ट क्रिकेट के लिए अपने जुनून पर प्रकाश डालते हुए मैक्‍सवेल ने टेस्‍ट टीम में वापसी की उम्‍मीद जताई।

उन्‍होंने कहा, 'यह लंबा समय हो चला है और टेस्‍ट टीम में होने से ही काफी उत्‍साहित महसूस करता हूं। मुझे अपना सिलेक्‍शन याद दिलाता है कि मुझे कहां होना चाहिए। मैंने इस बारे में कोई राज नहीं रखा है। मैं दोबारा टेस्‍ट क्रिकेट खेलना चाहता हूं और उम्‍मीद है कि इस गर्मी के अंत तक मैं शायद टेस्‍ट टीम का हिस्‍सा बनूंगा।'

ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने अब तक सात टेस्‍ट में 26.07 की औसत से 339 रन बनाए, जिसमें केवल एक शतक शामिल है। यह देखना दिलचस्‍प होगा कि निरंतर बेहतर प्रदर्शन करके मैक्‍सवेल अपना टेस्‍ट करियर दोबारा पटरी पर ला पाते हैं या नहीं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar