Create
Notifications

"जो प्लेयर इंग्लैंड से खेलने की बजाय IPL को तरजीह दें उन्हें टीम से बाहर कर देना चाहिए"

Photo Credit - BCCI
Photo Credit - BCCI
सावन गुप्ता

इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि ऐसे प्लेयर्स को गुडबॉय बोल देना चाहिए जो नेशनल टीम की बजाय फ्रेंचाइज क्रिकेट को ज्यादा महत्व देते हैं।

द टेलीग्राम में लिखे अपने कॉलम में माइकल वॉन ने एक हालिया इंटरव्यू का जिक्र किया। इस इंटरव्यू में इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर एश्ले गिल्स ने आशंका जताई थी कि खिलाड़ी आईपीएल के लिए नेशनल ड्यूटी को तरजीह नहीं दे रहे हैं। माइकल वॉन ने लिखा,

ऐश्ले जाइल्स ने मुझे बीबीसी के मेरे शो पर कहा था कि इंग्लैंड आईपीएल को लेकर खिलाड़ियों के साथ बहुत ज्यादा उलझना नहीं चाहता क्योंकि लंबे वक्त में उन्हें अपने कुछ बड़े खिलाड़ियों को खोने का डर है। मेरे हिसाब से इससे एक गलत संदेश जाता है। अगर 26 और 27 साल का इंग्लैंड का एक खिलाड़ी मेरे पास आता है और कहता है कि वो इंग्लैंड डील की बजाय फ्रेंचाइज क्रिकेट और आईपीएल का चयन कर रहा है तो मेरा जवाब सीधा सा होगा। जाओ बाद में मिलते हैं, गुडबॉय लेकिन मैं आपको बता देता हूं कि एक या दो साल बाद आप यहां पर जरुर आओगे।

ये भी पढ़ें: भारत की वर्ल्ड कप जीत के 10 साल पूरे, आज ही के दिन 2011 में रचा था इतिहास

माइकल वॉ़न के मुताबिक प्रमुख प्लेयर्स का कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया जाना चाहिए

माइकल वॉन ने इसके अलावा अपने प्रमुख खिलाड़ियों का कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाने की भी मांग की। उन्होंने कहा,

अगर इंग्लैंड चाहता है कि ऐसा ना हो तो उन्हें अपने बेस्ट प्लेयर्स को 2 या 3 साल का सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट देना चाहिए। आपको अपने बेस्ट प्लेयर्स का ख्याल रखना होगा। इसलिए बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर को एक साल से ज्यादा का कॉन्ट्रैक्ट मिले।

ये भी पढ़ें: एबी डीविलयर्स ने अपनी ऑल टाइम IPL इलेवन का किया ऐलान, कई प्रमुख खिलाड़ियों को नहीं किया शामिल


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...