Create
Notifications

"मैं एक बार फिर भारतीय टीम में वापसी करना चाहता हूं"

 जयदेव उनादकट
जयदेव उनादकट
मयंक मेहता

जयदेव उनादकट ने अपनी कप्तानी में सौराष्ट्र को पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जिताया। राजकोट में खेले गए फाइनल मुकाबले में बंगाल को पहली पारी में बढ़त लेते हुए सौराष्ट्र ने खिताबी जीत दर्ज की। जयदेव उनादकट का प्रदर्शन भी शानदार रहा और उन्होंने पूरे सीजन में कुल मिलाकर 67 विकेट हासिल किए। अब उन्होंने भारतीय टीम में एक बार फिर वापसी की दिलचस्पी दिखाई है।

फाइनल मुकाबले में सौराष्ट्र को मिली शानदार जीत के बाद जयदेव उनादकट ने ईएसपीएन क्रिकइंफो के साथ बात करते हुए कहा,

"मैंने अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में हूं और सबसे अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं। यहां बात विकेट लेने की नहीं है, लेकिन जिस तरह से मैच के बाद रिकवर कर रहा हूं और काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं। मैच के 5वें दिन पुरानी गेंद से जिस तरह गेंदबाजी कर रहा हूं, वो काफी कुछ दिखाता है। मेरे पास विकेट लेने के काफी विकल्प हैं, जोकि हर गेंदबाज की कोशिश रहती है। मेरे अंदर अभी भी वापसी की भूख है और इसी वजह से पूरे सीजन को सर्वाइव कर पाया। मैं इसी फॉर्म को जारी रखना चाहता हूं।

जयदेव उनादकट ने 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुए टेस्ट सीरीज में डेब्यू किया था। हालांकि उनका प्रदर्शन काफी खराब रहा था, जिसके बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया था। इसके बाद 2018 में उन्होंने अपना आखिरी मैच निदाहस ट्रॉफी में खेला था।

यह भी पढ़ें: 2021 महिला वर्ल्ड कप के शेड्यूल का हुआ ऐलान, 6 फरवरी से 7 मार्च तक खेला जाएगा टूर्नामेंट

वो इस साल आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले हैं और अच्छा प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर वापसी की राह बनाना चाहेंगे। भारत को वैसे भी काफी समय से अच्छे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज की जरूरत है, लेकिन कोई भी मिले मौके का फायदा नहीं उठा पाया है।

उनादकट अपनी मौजूदा फॉर्म का फायदा उठाना चाहेंगे, लेकिन देखना होगा कि क्या उन्हें फिर से भारतीय टीम में मौका मिलता है या नहीं।


Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...