Create
Notifications

मैं सचिन तेंदुलकर का ऑटोग्राफ लेना चाहता था, फिर सोचा कि इससे मेरा इंप्रेशन खराब होगा, पूर्व तेज गेंदबाज का बयान

Australia v India - Commonwealth Bank Series 1st Final
Australia v India - Commonwealth Bank Series 1st Final
सावन गुप्ता

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली (Brett Lee) ने महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin tendulkar) से जुड़ा एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि एक बार 1999 में वो सचिन तेंदुलकर का ऑटोग्राफ लेना चाहते थे लेकिन अपना इंप्रेशन खराब होने के डर से उन्होंने ऐसा नहीं किया।

सचिन तेंदुलकर और ब्रेट ली की राइवलरी काफी तगड़ी थी। जब भी ऑस्ट्रेलिया और भारत की टीमें आमने-सामने होती थीं तो तेंदुलकर और ब्रेट ली के बीच की राइवलरी देखने लायक होती थी। ब्रेट ली किसी ना किसी तरह तेंदुलकर को आउट करने की कोशिश जरूर करते थे।

मैंने अपने इंप्रेशन की वजह से सचिन तेंदुलकर का ऑटोग्राफ नहीं लिया - ब्रेट ली

ब्रेट ली ने जब 1999 में ऑस्ट्रेलिया के लिए अपना टेस्ट डेब्यू किया था तब सचिन ने मेलबर्न टेस्ट मैच में शतक भी लगाया था। इस सीरीज की शुरूआत से पहले ब्रेट ली को तीन दिवसीय अभ्यास मुकाबले में सचिन तेंदुलकर को गेंदबाजी करने का मौका मिला था। ली के लिए ये फैन ब्वॉय मोमेंट था और वो तेंदुलकर का ऑटोग्राफ लेना चाहते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

अपने यू-ट्यूब चैनल पर उस सीरीज को याद करते हुए ब्रेट ली ने कहा,

पहली बार मैं 1999 में सचिन तेंदुलकर से मिला था। हम कैनबरा में थे और मैं प्राइम मिनिस्टर इलेवन की तरफ से भारत के खिलाफ खेल रहा था। सचिन तेंदुलकर भी उस टीम में थे। जब वो बल्लेबाजी के लिए आए तो मुझे ये एहसास हुआ कि मैं सचिन तेंदुलकर को गेंदबाजी करने जा रहा हूं। मैं वास्तव में उनका ऑटोग्राफ लेना चाहता था। मैंने सोचा कि उन्हें गेंद देकर उस पर साइन करने के लिए कहूंगा लेकिन फिर सोचा कि इससे मेरा पहला इंप्रेशन सचिन तेंदुलकर के ऊपर सही नहीं पड़ेगा।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...