वर्ल्ड कप 2019: 3 सलामी बल्लेबाज जो अपनी टीम की सफलता की चाबी हैं

रोहित शर्मा

सलामी बल्लेबाजों ने हमेशा सफेद गेंद क्रिकेट में बड़े पैमाने पर भूमिका निभाई है। एक सलामी बल्लेबाज़ अपनी टीम को पारी में तेज़ गति से रन बनाकर विपक्षी गेंदबाज़ों की योजनाओं को सफल ना होने में मदद करता है।

इस दृष्टिकोण को सबसे पहले सनथ जयसूर्या ने आगे बढ़ाया जिन्होंने 1996 वर्ल्ड कप में धमाकेदार शुरुआत की और श्रीलंका को खिताब जीतने में मदद की। मैथ्यू हेडन और सचिन तेंदुलकर ऑस्ट्रेलिया और भारत के लिए क्रमशः 2007 और 2011 में विश्व कप अभियान में इसी तरह खेलने के कारण टीम को खिताब जिताने में सफल रहे थे।

अगर हम इंग्लैंड में खेले गए पिछले दो आईसीसी टूर्नामेंटों पर नज़र डालें, तो शिखर धवन एक बेहतरीन बल्लेबाज़ थे, जिन्होंने 2013 और 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी दोनों में शीर्ष स्कोर किया था। प्रत्येक दूसरी टीम ने इतिहास से सीख ली है और विस्फोटक बल्लेबाजों के साथ अपने शीर्ष क्रम को आगे बढ़ाने की कोशिश की है ताकि वे सुनिश्चित कर सकें कि उन्हें पारी में एक शानदार शुरुआत मिले। आज इस लेख में हम तीन ऐसे सलामी बल्लेबाजों पर नज़र डालेंगे, जो 2019 विश्व कप में अपनी टीम को तेज़ शुरुवात दिलवा कर टीम की सफलता की चाबी बन सकते हैं।

# 3 इमाम-उल-हक (पाकिस्तान)

इमाम-उल-हक

इमाम-उल-हक, जो पूर्व पाकिस्तानी कप्तान इंजमाम -उल-हक के भतीजे हैं, के पास एक संगठित तकनीक और कई शॉट्स हैं जो उनकी बल्लेबाजी को आकर्षक बनाते हैं।उनकी क्षमता की झलक ज़िम्बाब्वे के खिलाफ उनके पदार्पण मुकाबले में ही पता चल गयी थी, जब उन्होंने अपने पहले ही अंतराष्ट्रीय मैच में शतक लगाया था।

इमाम हाल के दिनों में अच्छी फॉर्म में हैं। उन्होंने 2018 एशिया कप में तीन अर्धशतक बनाए और पाकिस्तान के लिए सकारात्मक सोच से बल्लेबाज़ी करी। इमाम ने हाल ही में संपन्न हुए दक्षिण अफ्रीका दौरे की वनडे सीरीज़ में भी अपनी काबिलियत दिखाते हुए पांच मुकाबलों में 271 रन बनाए।

अगर इमाम को आगामी विश्व कप में सफल होना है, तो उन्हें बीच के ओवरों में बेहतर स्ट्राइक रोटेट करना और एक छोर पकड़ना सीखना चाहिए। यदि वह ऐसा करने में सफल होता है, तो वह बल्लेबाजी विभाग में पाकिस्तान के लिए MVP (मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर) के रूप में खुद को स्थापित कर सकते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2 मार्टिन गप्टिल

मार्टिन गुप्टिल 

मार्टिन गप्टिल पिछले कुछ समय से कीवी बल्लेबाजी के मुख्य आधारों में से एक हैं। वह स्विंग और उछाल से निपटने में माहिर है और लाइन के माध्यम से गेंद को मारने में बहुत कुशल है। इस विस्फोटक सलामी बल्लेबाज के पास शॉर्ट गेंद को अच्छी तरह से संभालने की क्षमता है और वह मिड विकेट पर और 'वी' में बेहतरीन शॉट्स खेलकर किसी भी गेंदबाज़ की लाइन और लेंथ बिगाड़ सकते हैं।

भारत के खिलाफ वनडे सीरीज़ में कुछ ख़ासा कमाल करने में विफल रहे गुप्टिल वर्तमान में अच्छी फॉर्म में हैं। उन्होंने बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ अभी हाली में शतक बनाए हैं। भले ही गुप्टिल भारत के खिलाफ सीरीज़ में रन बनाने में असफल रहे, लेकिन हमें यह बात नहीं भूलनी चाहिए की उनके खेलने का तरीके को इंग्लिश परिस्तिथिओं से काफी मदद मिलेगी। अगर गुप्टिल कीवी टीम को एक तेज़ शुरुवात देकर बड़े शतक जड़ने में सफल रहते हैं, तो न्यूज़ीलैंड निश्चित रूप से इस वर्ल्ड कप में कमाल कर सकता है।

# 1 रोहित शर्मा (भारत)

रोहित शर्मा

रोहित शर्मा निस्संदेह वर्तमान में सफेद गेंद क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज हैं। रोहित शर्मा एक ऐसे बल्लेबाज़ हैं, जो बड़ी आसानी से तेज़ और स्पिन गेंदबाज़ी का सामना करते है, और एक बार लेह पकड़ लेने के बाद किसी भी गेंदबाज़ की लाइन और लेंथ बिगाड़कर लम्बा स्कोर कर सकते हैं। रोहित शर्मा के नाम वनडे क्रिकेट में सात 150+ स्कोर हैं जिसमें तीन दोहरे शतक शामिल हैं, जो एक पारी में गहरी बल्लेबाजी करने की उनकी क्षमता का प्रमाण है।

रोहित शर्मा ने शिखर धवन के साथ एक मजबूत साझेदारी की है और दोनों ने सभी गेंदबाजी आक्रमणों पर हावी होने से पीछे नहीं हटते। अगर मुंबई इंडियंस के कप्तान को विश्व कप में मौका मिलता है, तो वह अपने दम पर कई टीमों का सफाया कर देंगे। यदि भारत को तीसरी बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी जितनी है, तो रोहित शर्मा एक एहम कड़ी हैं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now