"अगर जल्दी विकेट गिरे, तो कुछ भी हो सकता है" - इंदौर टेस्ट में भारत के जीतने की उम्मीदों को लेकर आई प्रतिक्रिया 

India v Australia - 3rd Test: Day 1
India v Australia - 3rd Test: Day 1

इंदौर टेस्ट (IND vs AUS) का तीसरा दिन काफी रोमांचक रहने वाला है। ऑस्ट्रेलिया के सामने 76 रनों का छोटा लक्ष्य है लेकिन पिच के कारण यह आसान नहीं रहने वाला है। कुछ ऐसा ही पूर्व भारतीय खिलाड़ी वसीम जाफर (Wasim Jaffer) का भी मानना है। जाफर के मुताबिक अगर ऑस्ट्रेलिए इस लक्ष्य को नहीं चेस कर पाई तो काफी निराश होगी, लेकिन स्पिन की मददगार पिच की वजह से भारत को भी थोड़ी-बहुत उम्मीद होगी। पूर्व खिलाड़ी के मुताबिक नतीज इस बार पर निर्भर करेगा कि भारत जल्दी विकेट ले पाता है या नहीं।

होल्कर स्टेडियम में तीसरे टेस्ट के पहले दो दिन में कुल 30 विकेट गिरे। दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया एक अच्छी स्थिति से पहली पारी में 197 रन बनाकर ढेर हो गई। उन्होंने अपने आखिरी छह विकेट सिर्फ 11 रन पर गंवा दिए। इसके बाद, भारतीय टीम अपनी दूसरी पारी में 169 रनों पर सिमट गई। 88 रनों की बढ़त के कारण तीसरे दिन ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए सिर्फ 76 रन बनाने होंगे।

वसीम जाफर ने ऑस्ट्रेलिया को पसंदीदा मानते हुए, कहा कि भारत अभी भी हल्का सा मौका है। ईएसपीएन क्रिकइंफो पर जाफर ने कहा,

वे (भारत) जल्दी विकेट की उम्मीद कर रहे होंगे। इस तरह की पिचों पर अगर आपको एक या दो विकेट मिलते हैं तो आपको लगातार तीन-चार मिलते हैं, जैसा कि पहली पारी में हुआ था। वे उम्मीद कर रहे होंगे कि नई गेंद से उन्हें दो या तीन विकेट जल्दी मिल जाएं। अगर ऑस्ट्रेलियाई खेमे में दहशत फैल गई तो कुछ भी हो सकता है। यह चौथी पारी है। गेंद स्पिन होने जा रही है।

उस्मान ख्वाजा और स्टीव स्मिथ को जल्दी आउट करके दबाव बनाया जा सकता है - वसीम जाफर

पूर्व खिलाड़ी के मुताबिक भारत अगर उस्मान ख्वाजा और स्टीव स्मिथ को जल्दी आउट कर लेता है, तो फिर मैच में पकड़ बना सकता है। उन्होंने कहा,

अगर भारत जल्दी एक या दो विकेट नहीं लेता है तो यह ऑस्ट्रेलिया का गेम होगा। अगर वे स्टीव स्मिथ और उस्मान ख्वाजा को जल्दी आउट कर देते हैं तो अनुभवहीन खिलाड़ी दबाव के आगे झुक सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया को इसे (76) हासिल करने में सक्षम होना चाहिए। यदि वे ऐसा नहीं करते हैं, तो यह उनके काफी निराशाजनक होगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment