IND vs ENG: रांची टेस्ट में मिली जीत में अहम भूमिका निभाने वाले ध्रुव जुरेल की बड़ी प्रतिक्रिया, गिल के साथ बातचीत का भी किया खुलासा

India  v England - 4th Test Match: Day Four
India v England - 4th Test Match: Day Four

भारत ने इंग्लैंड को रांची में खेले गए मुकाबले में 5 विकेट से हराकर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज (IND vs ENG) में 3-1 की अजेय बढ़त बना ली है। इस जीत में युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ध्रुव जुरेल (Dhruv Jurel) का अहम योगदान रहा, जिन्होंने दोनों पारियों में बल्ले से योगदान दिया। जुरेल को शानदार प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया। मुकाबले के बाद, युवा खिलाड़ी ने निचले क्रम के बल्लेबाजों को सराहा, जिन्होंने साझेदारियों में उनका साथ दिया। इसके अलावा उन्होंने दूसरी पारी में शुभमन गिल के साथ मैच जिताऊ अविजित साझेदारी के दौरान हुई बातचीत का भी खुलासा किया।

राजकोट में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत करने वाले ध्रुव जुरेल ने पिछले मुकाबले में 46 रनों की पारी खेली थी और अपनी प्रतिभा का सबूत दिया था। इसके बाद रांची टेस्ट में भारत की पहली पारी मुश्किल में थी लेकिन उन्होंने निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ मिलकर स्कोर को 300 के पार पहुँचाया और इंग्लैंड के हाथ से बड़ी बढ़त का मौका छीन लिया। लग रहा था कि वह अपना पहला शतक जमा देंगे लेकिन उनकी पारी 90 के निजी स्कोर पर समाप्त हो गई थी। अपनी पारी के दौरान जुरेल ने कुलदीप यादव (28) के साथ 76 और आकाश दीप (9) के साथ 40 रनों की बेहद अहम साझेदारियां की थी।

इसके बाद, 192 के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 120 के स्कोर तक 5 विकेट गंवा दिए थे लेकिन शुभमन गिल (52*) का साथ देने आये ध्रुव जुरेल ने समझदारी से बल्लेबाजी की और नाबाद 39 रन बनाकर 72 रनों की अविजित साझेदारी में अहम भूमिका निभाई, जिससे भारतीय टीम जीत दर्ज करने में सफल हुई।

मुकाबले के बाद, प्रेजेंटेशन के दौरान ध्रुव जुरेल ने कहा,

मैं स्थिति की मांग के अनुसार खेलता हूं। पहली पारी में भी हमें रन बनाने की जरूरत थी, हम जानते थे कि हमें आखिरी में बल्लेबाजी करनी है और इसलिए हर रन महत्वपूर्ण होगा। मैं कुछ साझेदारियों में शामिल था, इसलिए इसका श्रेय उन निचले क्रम के खिलाड़ियों को जाता है जो टिके रहे और रन जोड़े।

जुरेल ने गिल के साथ अपनी बातचीत के बारे में भी बताया और कहा,

गिल और मैं छोटे-छोटे कार्य करने के बारे में चर्चा कर रहे थे। हमने इसे दस-दस रनों के सेट में विभाजित किया और फिर साझेदारी की शुरुआत की।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar