"यह अच्छा है कि वह राहुल द्रविड़ के साथ समय व्यतीत कर रहे हैं"- विराट कोहली को लेकर आई प्रतिक्रिया 

भारतीय हेड कोच राहुल द्रविड़ के साथ विराट कोहली
भारतीय हेड कोच राहुल द्रविड़ के साथ विराट कोहली

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के लिए बल्ले के साथ पिछले दो साल कुछ खास नहीं रहे हैं। ऐसे में यह बल्लेबाज इंग्लैंड दौरे (IND vs ENG) पर दमदार प्रदर्शन की तैयारी में जुटा हुआ है। इसके लिए वह भारतीय टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) से भी टिप्स लेते हुए नजर आये। कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा का भी मानना है कि द्रविड़ के साथ समय व्यतीत करने से दाएं हाथ के बल्लेबाज को काफी कुछ सीखने को मिलेगा।

टीम इंडिया 1 जुलाई से बर्मिंघम में पांच मैचों की श्रृंखला के पुनर्निर्धारित अंतिम टेस्ट में इंग्लैंड से भिड़ेगी। कोहली, जिन्होंने पहले चार मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की थी, इस बार बल्लेबाज के तौर पर नजर आएंगे। फैंस को उम्मीद होगी कि यह बल्लेबाज अपने बल्ले का दम दिखाए और भारत को सीरीज जीत में मदद करे।

इंडिया न्यूज पर बातचीत के दौरान, राजकुमार शर्मा से विराट कोहली के द्रविड़ के साथ नेट्स में लंबा समय बिताने के बारे में पूछा गया। इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा,

विराट लंबे समय से अपनी बल्लेबाजी पर कड़ी मेहनत करते हुए अपने बेसिक्स पर काफी काम कर रहे हैं। यह अच्छी बात है कि वह राहुल द्रविड़ के साथ समय बिता रहे हैं क्योंकि वह अपने समय के महानतम बल्लेबाजों में से एक थे। उनकी (द्रविड़) जिस तरह की तकनीक थी, वह शानदार थी और उनका स्वभाव भी शानदार था। ऐसा नहीं है कि विराट कोहली अपने बेसिक्स में बहुत सारी गलतियां कर रहे हैं, लेकिन कई बार यह जरूरी होता है कि अगर आप कोई छोटी सी गलती कर रहे हैं और अगर आपके पास राहुल जैसा कोच है, तो वह आपका मार्गदर्शन कर सकते हैं कि आप कैसे सुधार कर सकते हैं।

विराट को काफी फायदा मिलेगा - राजकुमार शर्मा

राजकुमार शर्मा ने कहा कि राहुल द्रविड़ को विदेशों में बल्लेबाजी का काफी अनुभव है और वह काफी अच्छी बल्लेबाजी करते थे। ऐसे में उनके साथ समय बिताने से निश्चित रूप से विराट कोहली को फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा,

राहुल जिस तरह से स्विंग वाली परिस्थितियों में बल्लेबाजी करते थे, उन्हें 'वॉल' नाम मिला क्योंकि वह उन परिस्थितियों में बहुत अच्छी बल्लेबाजी करते थे, जहाँ दूसरे बल्लेबाज संघर्ष करते थे। तो यह अच्छी बात है कि वह विराट के साथ अपने विचार साझा कर रहे हैं और विराट उनसे सीख रहे हैं। मुझे विश्वास है कि इससे विराट को जरूर फायदा होगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar