Create
Notifications

"मुझे लगा कि वह धोनी की तरह है", पूर्व पाकिस्तानी कप्तान की बड़ी प्रतिक्रिया 

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 मैच के दौरान शॉट खेलते हुए ऋषभ पंत
न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 मैच के दौरान शॉट खेलते हुए ऋषभ पंत
ANALYST

न्यूजीलैंड के खिलाफ (IND vs NZ) भारत के लिए चौका लगाकर मैच खत्म करने वाले ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की धीमी पारी चर्चा का विषय रही। कई लोगो ने उनके एप्रोच पर सवाल उठाये। पंत की धीमी बल्लेबाजी की वजह से कीवी टीम के खिलाफ रन चेज आखिरी ओवर तक गया। पंत की धीमी पारी को लेकर पूर्व पाकिस्तानी कप्तान इंजमाम उल हक ने भी निराशा जताई है। इंजमाम के मुताबिक उन्होंने पंत को धोनी जैसा बल्लेबाज समझा था लेकिन अभी तक उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं।

कीवी टीम के खिलाफ 165 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत सूर्यकुमार (62) और रोहित शर्मा (48) की शानदार पारियों की वजह से आसानी से जीत की तरफ अग्रसर हो रहा था। हालांकि बीच में कुछ विकेट गिरने से भारत दवाब में आ गया और मैच आखिरी ओवर तक चला गया। आखिरी ओवर में ऋषभ पंत ने चौका लगाकर टीम को पांच विकेट से जीत दिलाई। पंत ने मैच जरूर फिनिश किया लेकिन उन्होंने 17 गेंदों में 17 रन की धीमी पारी खेली।

अपने यूट्यूब चैनल पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैच का रिव्यु करते हुए पंत को लेकर इंज़माम उल हक़ ने कहा,

मुझे ऋषभ पंत से काफी उम्मीदें थीं। पिछले दो साल में उन्होंने जिस तरह का प्रदर्शन किया है, मैंने उन्हें काफी सराहा है। मैंने उन्हें ऑस्ट्रेलिया में खेलते हुए देखा, फिर इंग्लैंड के खिलाफ जब उन्होंने इस साल की शुरुआत में भारत का दौरा किया। उन्होंने जिन परिस्थितियों में खेला। मैंने सोचा था कि धोनी की तरह, जब टॉप ऑर्डर नाकाम होता है, तो वह निचले क्रम में रन बनाते हैं। मुझे लगा कि पंत उस तरह के खिलाड़ी हैं। लेकिन वर्ल्ड कप के दौरान वह मेरी उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे।
वह दबाव में दिखे। वह दबाव में पहले भी रहता था लेकिन हमेशा इससे बाहर निकलने का प्रयास करता था। इसलिए हाल ही में, वह मेरी उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे। उन्होंने 17 में से 17 रन बनाए लेकिन वह एक शानदार बल्लेबाज हैं। उसे इसका एहसास हो गया होगा और मुझे यकीन है कि वह अपने खेल में सुधार करेगा।

भारतीय टीम अभी भी वर्ल्ड कप में किये गए निराशाजनक प्रदर्शन से बाहर नहीं निकली है - इंजमाम उल हक़

इंजमाम के मुताबिक कीवी टीम के खिलाफ पहला मैच जीतने के बावजूद भारतीय टीम अभी भी दबाव में लग रही है। उन्होंने कहा कि भारत ने यह जीत अच्छा खेलकर नहीं बल्कि न्यूजीलैंड के खराब खेलने की वजह से हासिल की है। अपनी बात को समझाते हुए उन्होंने आगे कहा,

जीत के बावजूद, भारत अभी भी दबाव में है। ऐसा लगता है कि वे अभी भी वर्ल्ड कप में किये गए खराब प्रदर्शन को भूल नहीं पाए हैं। मैं यह नहीं कहूंगा कि भारत ने शानदार खेला, बल्कि मुझे लगता है कि न्यूजीलैंड ने खराब खेला। उन्होंने कई कैच छोड़े और मैच भारत के पक्ष में कर दिया।


Edited by Prashant Kumar
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now