Create
Notifications

टी20 सीरीज में भारत के शानदार प्रदर्शन तथा युवा खिलाड़ियों को मौका देने को लेकर पाकिस्तानी खिलाड़ी ने दी प्रतिक्रिया 

भारत ने न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप करते हुए सीरीज अपने नाम की
भारत ने न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप करते हुए सीरीज अपने नाम की
ANALYST

भारत (Indian Cricket Team) ने न्यूजीलैंड को 3 मैचों की टी20 सीरीज (IND vs NZ) में कोई भी मौका ना देते हुए क्लीन स्वीप कर सीरीज अपने नाम की। इस सीरीज में भारत ने उम्मीदों के मुताबिक शानदार खेल दिखाया तथा घरेलू मैदानों पर कीवी टीम को बुरी तरह हराया। भारत की क्लीन स्वीप को लेकर पाकिस्तानी विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल ने भी प्रतिक्रिया दी है। अकमल के मुताबिक भारत ने टी20 वर्ल्ड के खराब प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ अपनी प्रतिष्ठा के मुताबिक खेला।

टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया सुपर 12 से ही बाहर हो गयी थी। बड़ी टीमों के खिलाफ भारत का खराब प्रदर्शन देखने को मिला था और इसी वजह से टीम सेमीफाइनल में जगह भी नहीं बना पाई थी। हालांकि टीम ने घरेलू टी20 सीरीज में कुछ प्रमुख खिलाड़ियों के बिना ही न्यूजीलैंड को आसानी से मात दी।

अपने यूट्यूब चैनल पर 'कैच एंड बैट विद कामरान अकमल' पर उन्होंने भारतीय टीम मैनेजमेंट को युवाओं को मौका देने के लिए भी सराहा। अकमल ने कहा,

भारतीय टीम ने हर खिलाड़ी को मौका दिया इसकी सराहना की जानी चाहिए। इस तरह एक खिलाड़ी परिपक्व होता है। यही वजह है कि भारतीय टीम इतनी सफल रही है। नए खिलाड़ियों और बाकी मुख्य खिलाड़ियों के साथ खेलना और सीरीज जीतना बिल्कुल आसान नहीं है। उन्होंने अपनी प्रतिष्ठा के अनुसार क्रिकेट खेला।

अकमल ने यह भी कहा कि अगर भारत किसी आईसीसी टूर्नामेंट से जल्दी बाहर हो जाता है तो वह टूर्नामेंट रुचिहीन हो जाता है। उन्होंने आगे कहा,

ऐसा नहीं लगता कि यह वही टीम है जो टी20 वर्ल्ड के ग्रुप स्टेज से बाहर हो गयी है। जब भारत जैसी टीम आईसीसी टूर्नामेंट के नॉकआउट में जगह नहीं बनाती है, तो पूरा आयोजन रुचिहीन हो जाता है।

भारत ने इशान किशन को खिलाकर अच्छा किया - कामरान अकमल

अपनी बल्लेबाज के दौरान इशान किशन
अपनी बल्लेबाज के दौरान इशान किशन

भारत ने आखिरी टी20 मैच में केएल राहुल को आराम देते हुए युवा बल्लेबाज इशान किशन को बतौर ओपनर खिलाया। कामरान अकमल ने इस फैसले की सराहना करते हुए कहा,

इशान किशन को खिलाकर अच्छा किया है। ऐसा तब होता है जब आप पहले दो मैचों में ही सीरीज जीत लेते हैं। यह एक बड़ा फायदा है। किशन किसी भी दबाव में नहीं दिखे और उन्होंने तेज गेंदबाजों - बोल्ट, मिल्ने और लोकी फर्ग्यूसन के खिलाफ अपने शॉट खेले। उनके 29 रन काफी अहम थे क्योंकि उन्होंने तेजी से पावरप्ले का फायदा उठाने में अहम भूमिका अदा की।

Edited by Prashant Kumar
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now