Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

युवराज सिंह ने अर्धशतकीय पारी कैंसर पीड़ितों और लंदन हमले में मारे गए लोगों को समर्पित की

Rahul Sharma
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:30 IST
Advertisement

भारतीय टीम ने पाकिस्तान को 124 रन से हराकर चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में जीत के साथ शुरुआत कर दी है। भारतीय बल्लेबाजों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम ने पाकिस्तान के सामने 324 रनों का मुश्किल लक्ष्य रखा, जिसका पीछा करते हुए पाकिस्तान सिर्फ 164 रन ही बना सकी। भारतीय टीम के सभी टॉप आर्डर बल्लेबाजों ने अर्धशतक जमाए। शुरुआत में धवन (68) और रोहित (91) ने शानदार पारियां खेली, तो अंत में कोहली (81 नाबाद) और युवराज सिंह (53) के ताबड़तोड़ अर्धशतकों और बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत भारतीय टीम ने आसानी के से यह मुकाबला जीत लिया। युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 32 गेंदों पर 53 रन की पारी खेली, जिसके कारण उनको 'मैन ऑफ़ द मैच' के इनाम से भी नवाज़ा गया। 'कैंसर सर्वाइवर डे' के मौके पर युवराज सिंह ने अपनी धुआंधार पारी को कैंसर पीड़ित लोगो के साथ साथ लंदन अटैक में मारे गए लोगो को समर्पित की हैं, उन्होंने यह जानकारी अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से फोटो के जरिए साझा की है। फ़ोटो में युवराज ने ट्रॉफी लेते हुए कहा 'मेरी यह पारी कैंसर से पीड़ित और उनसे लड़ने वाले लोगो के लिए है साथ ही मेरी संवेंदना लन्दन अटैक में मारे गए लोगो के साथ हैं।'

बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज सिंह भी कैंसर पीड़ित रह चुके है। 2011 वर्ल्ड कप से पहले युवराज सिंह को फेफड़ो में कैंसर की शिकायत पाई गई थी। युवराज तक़रीबन 2 साल तक इस बीमारी लड़ते रहे और अंत में वह पूरी तरह से ठीक होकर भारतीय टीम के लिए फिर से मैदान में खेलते हुए नजर आये। कैंसर के दौरान भी उन्होंने भारतीय टीम को 2011 वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। 3 जून को हुए लंदन में आत्मघाती हमले में 7 लोगों की जान चली गई जबकि 48 लोग घायल हो गए थे। युवराज ने इस घटना को भी ध्यान में रखते हुए अपने पुरस्कार को लंदन अटैक को समर्पित किया है। लंदन अटैक के तुरंत 48 घंटो के अंदर भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हुआ। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शिखर और रोहित की शतकीय साझेदारी की बदौलत ठोस शुरुआत की, उसके बाद कप्तान विराट कोहली ने मोर्चा संभालते हुए पारी को आगे बढ़ाया लेकिन रोहित शर्मा के आउट होने से भारतीय टीम का स्कोर कम बनता हुआ नजर आ रहा था। युवराज सिंह के आने के बाद भारतीय टीम ने अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी शुरू की और आखिरी चार ओवरों में 72 रन बनाकर टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया। बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम शुरू से ही लड़खड़ाती नजर आई और अंत में सिर्फ 164 रन ही बना सकी। भारत ने D/L  मेथड से यह मैच 124 रनों से अपने नाम किया। भारतीय टीम के जीत के हीरो रहे टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों ने उम्दा बल्लेबाजी की और इसी की बदौलत भारतीय टीम ने 3.02 के अच्छे नेट रन रेट से अंक तालिका में पहला स्थान प्राप्त कर लिया है। भारत का अगला मुकाबला 8 जून को श्रीलंका से होगा, उसके बाद ग्रुप स्टेज में 11 जून को दक्षिण अफ्रीका से आखिरी मुकाबला होगा। Published 05 Jun 2017, 18:46 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit