भुवनेश्वर कुमार की गेंदबाजी में लय की कमी बताते हुए पूर्व खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

South Africa v India - 1st ODI
South Africa v India - 1st ODI

पार्ल में खेले गए पहले वनडे (IND vs SA) में भारत के प्रमुख तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) की गेंदबाजी एक कमजोर कड़ी रही। पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने भी भुवनेश्वर कुमार की गेंदबाजी में लय की लगातार कमी का जिक्र किया।

भारतीय टीम की खराब गेंदबाजी की वजह से दक्षिण अफ्रीका ने 68 के स्कोर तीन विकेट खोने के बावजूद 296 तक पहुँचने में सफल रही। इस दौरान भुवी काफी महंगे साबित हुए और उन्हें एक भी सफलता हासिल नहीं हुयी। उन्होंने 10 ओवर की गेंदबाजी करते हुए 64 रन खर्च किये।

अपने यूट्यूब चैनल पर भारतीय गेंदबाजों के प्रदर्शन पर चर्चा करते हुए आकाश चोपड़ा भुवनेश्वर कुमार से प्रभावित नहीं दिखे। उन्होंने कहा,

जसप्रीत बुमराह ने नई गेंद से जानेमन मलान को आउट किया, यह बहुत अच्छी गेंद थी। भुवनेश्वर कुमार शुरू में तो ठीक लगे लेकिन उसके बाद पैनापन नजर नहीं आ रहा है और यह लगातार समस्या है।
youtube-cover

आकाश चोपड़ा ने आगे इस बात का भी जिक्र किया कि पिछले कुछ समय में भुवनेश्वर की क्षमता में कमी आई है। चोपड़ा ने कहा,

ऐसा नहीं है कि हम अभी इस समस्या को देख रहे हैं, इसे 12 से 15 महीने हो गए हैं। हमने अब तक भुवनेश्वर कुमार का सर्वश्रेष्ठ नहीं देखा है और अगर आप मेरे दृष्टिकोण से बात करते हैं तो यह थोड़ा निराशाजनक है। शार्दुल ठाकुर अच्छा प्रयास किया लेकिन वह भी यहाँ कुछ नहीं कर सका।

मध्यक्रम में भारतीय गेंदबाज विकेट नहीं ले पा रहे हैं - आकाश चोपड़ा

अश्विन विकेट लेने के बाद विराट कोहली के साथ जश्न मनाते हुए
अश्विन विकेट लेने के बाद विराट कोहली के साथ जश्न मनाते हुए

आकाश चोपड़ा ने बीच के ओवरों में रविचंद्रन अश्विन और युजवेंद्र चहल के विकेटों की कमी पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा,

आप बीच के ओवरों में विकेट लेने में सक्षम नहीं हैं, यह भारतीय टीम के साथ एक मुद्दा रहा है। और फिर आपको याद आता है कि दूसरा कलाई का स्पिनर कहां है? अश्विन किफायती रहे, दोनों स्पिनरों ने अपने 10 ओवर में 53 रन दिए, लेकिन विकेट नहीं हैं तो कोई फायदा नहीं। अगर आप 72 रन खर्च करते हैं लेकिन तीन विकेट लेते हैं तो मुझे कोई दिक्कत नहीं।

पूर्व सलामी बल्लेबाज ने केएल राहुल के वेंकटेश अय्यर को बतौर गेंदबाज ना इस्तेमाल करने भी सवाल उठाया। चोपड़ा ने कहा,

आपने वेंकटेश अय्यर को एक अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प के रूप में खिलाया। लेकिन आपने उसे गेंदबाजी करने के लिए नहीं लिया। यह मेरी समझ से परे है। आप वेंकटेश अय्यर को क्यों खिला रहे हैं यदि आप उन्हें गेंद नहीं देना चाहते हैं? आप वेंकटेश अय्यर को सिर्फ 6 नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए नहीं खिला रहे हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar