Create

"अश्विन और जयंत लम्बे समय के लिए वनडे में आपके विकल्प नहीं हैं", पूर्व खिलाड़ी ने स्पिन विभाग में बदलाव की बात कही 

अश्विन और जयंत यादव को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में खेलने का मौका मिला था
अश्विन और जयंत यादव को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में खेलने का मौका मिला था

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हालिया वनडे सीरीज (IND vs SA) में स्पिन गेंदबाजी एक मुख्य समस्या रही। इस सीरीज में भारत के लिए रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin), युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) और जयंत यादव (Jayant Yadav) स्पिनर के रूप में खेले और सभी असरदार साबित नहीं हुए। स्पिन गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन को देखते हुए पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने भारतीय स्पिन आक्रमण में बदलाव की मांग की है। उनके मुताबिक अश्विन और जयंत लम्बे समय के लिए विकल्प नहीं हैं।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में भारतीय स्पिनर निराश करते दिखे, जबकि प्रोटियाज स्पिन गेंदबाजों ने काफी प्रभावित किया और भारत के बल्लेबाजों को मध्यक्रम में संघर्ष करने पर मजबूर किया।

अपने यूट्यूब चैनल पर भारत की हार की समीक्षा करते हुए चोपड़ा ने स्पिन गेंदबाजों के बारे में कहा,

हमारी स्पिन गेंदबाजी बहुत अच्छी नहीं रही। अश्विन युजी चहल के साथ थे और आपने तीन मैचों में सिर्फ तीन विकेट लिए। जयंत यादव को खिलाया गया, वह थोड़ा बदकिस्मत रहे। लेकिन जयंत यादव किसी भी तरह से आपकी दीर्घकालिक वनडे विकल्प नहीं हैं।
youtube-cover

आकाश चोपड़ा ने याद दिलाया कि विराट कोहली की अगुवाई में जब भारत ने पिछली बार वनडे सीरीज जीती थी तो उसमें कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी का अहम योगदान था। उन्होंने कहा,

जब आप पिछली बार गए थे, तो आपने कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के साथ गेंदबाजी की थी और आपने उन्हें कसकर पकड़ रखा था। इस बार विरोधी टीम ने आप पर पकड़ बना रखी थी, उन्होंने एक मैच में तीन विकेट लिए और हमने पूरी सीरीज में तीन विकेट लिए। अगर हम अच्छी स्पिन नहीं कर रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आपको बदलाव करने की जरूरत है।

2018 में भारत ने 5-1 से वनडे सीरीज जीती थी और कुलदीप तथा चहल की जोड़ी ने 33 विकेट चटकाए थे।

कुलदीप यादव के बारे में सोचना शुरू करें - आकाश चोपड़ा

कुलदीप यादव को काफी समय से नहीं मौका दिया गया है
कुलदीप यादव को काफी समय से नहीं मौका दिया गया है

पूर्व खिलाड़ी ने स्वीकार किया की टीम ने जडेजा की सेवाओं को मिस किया, आकाश चोपड़ा को लगता है कि चयनकर्ता कुलदीप-चहल की जोड़ी को फिर से जोड़ने के बारे में सोच सकते हैं। उन्होंने कहा,

भारत ने निश्चित रूप से जडेजा को मिस किया लेकिन कुलदीप के बारे में सोचना शुरू कर दीजिये या दो लेग स्पिनरों को खिलाएं। कुछ भी करें लेकिन आपको स्पिनरों की जरूरत है जो बीच के ओवरों में विकेट निकाल सकें।

बीच के ओवरों में विकेट लेने के महत्व को बताते हुए चोपड़ा ने कहा,

रन रोकना काम नहीं करेगा, 10 ओवर में 55 रन ही काफी नहीं हैं। ईमानदारी से कहूं तो आप 10 ओवर में 70 रन पर दे सकते हैं लेकिन तीन विकेट होने चाहिए।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment