Create

जोहानसबर्ग टेस्ट में हार के बाद भारतीय गेंदबाजों की आलोचना करते हुए, पूर्व खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

भारतीय गेंदबाज दूसरी पारी में बेअसर साबित हुए
भारतीय गेंदबाज दूसरी पारी में बेअसर साबित हुए
reaction-emoji
Prashant Kumar

दक्षिण अफ्रीका ने तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट (IND vs SA) मैच में भारत को मात देते हुए सीरीज में वापसी की। भारत की हार के बाद लगातार प्रतिक्रियाएं आ रही हैं और इसी कड़ी में पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी दानिश कनेरिया की प्रतिक्रिया भी शामिल हो गयी है। कनेरिया के मुताबिक भारतीय गेंदबाज चौथे दिन सर्वश्रेष्ठ लय में नहीं दिखे।

जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी तथा शार्दुल ठाकुर की तिकड़ी के सामने डीन एल्गर और रसी वैन डर डुसेन ने जबरदस्त बल्लेबाजी की और अपनी टीम को चौथे दिन शुरू में कोई झटका नहीं लगने दिया। दोनों ने एक मजबूत साझेदारी कर भारत की पहुंच से मैच को दूर किया। भारतीय गेंदबाजों की साधारण गेंदबाजी का फायदा उठाते हुए मेजबानों ने आसानी के साथ चौथे दिन मैच अपने नाम किया।

कनेरिया ने कहा कि गेंदबाजों ने सही एरिया को टारगेट करके गेंदबाजी नहीं की और अधिक मात्रा में रन खर्च किये।

अपने यूट्यूब चैनल पर पूर्व लेग स्पिनर ने कहा,

भारतीय गेंदबाजों ने सही एरिया में गेंदबाजी नहीं की। मैं केएल राहुल की कप्तानी को लेकर भी चिंता मे था क्योंकि भारतीय गेंदबाजों ने काफी तेजी के साथ रन दिए थे। बारिश की वजह से परिस्थितियां गेंदबाओं के पक्ष में थी, लेकिन गेंदबाजों ने उसके अनुसार गेंदबाजी नहीं की। वे बहुत अधिक रन लुटा रहे थे।
youtube-cover

डीन एल्गर ने कप्तानी पारी खेली और अंत में 96 रन बनाकर नाबाद रहते हुए टीम को 7 विकेट से जीत दिलाई एल्गर को उनकी बेहतरीन पारी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया।

भारतीय गेंदबाजों ने बल्लेबाजों को वहां गेंद नहीं खिलाई जहां खेलने में परेशानी हो - दानिश कनेरिया

भारतीय गेंदबाजों ने आज सटीक गेंदबाजी नहीं की और कई मौकों पर लाइन से भटके। मोहम्मद शमी ने वैन डर डुसेन को एक आउट स्विंगर से आउट करते हुए, चौथे एक मात्र विकेट लिया। कनेरिया ने कहा कि इस तरह की और अधिक गेंदें डालनी होती हैं। पूर्व खिलाड़ी ने कहा,

भारत को चौथे दिन की पिच और बादल वाली परिस्थितियों में छोटे स्पेल में अपने गेंदबाजों का इस्तेमाल करना था। अश्विन का ज्यादा इस्तेमाल नहीं हुआ। शमी और बुमराह ने भी काफी रन लुटाए। सिराज के साथ भी यही मामला था, वह विकेटों की कमी से निराश था। वह गलत गेंदबाजी कर रहे थे। बहुत सारे एक्स्ट्रा और बहुत सारी शॉर्ट-पिच डिलीवरी भी थी। उन्होंने बल्लेबाजों को ऑफ स्टंप की लाइन में नहीं खिलाया, जहां उन्हें परेशानी हो।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...