"तीन साल पहले जो कुछ भी मैंने हासिल किया वह अतीत में है" - दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज की बड़ी प्रतिक्रिया 

डुआन ऑलिवर एक बार फिर से वापसी के लिए तैयार हैं
डुआन ऑलिवर एक बार फिर से वापसी के लिए तैयार हैं

दक्षिण अफ्रीका के लिए दो साल बाद वापसी करने वाले तेज गेंदबाज डुआन ऑलिवर (Duanne Olivier) नयी शुरुआत के लिए तैयार हैं। ऑलिवर ने कहा है कि उनका पूरा ध्यान भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज (IND vs SA) पर है और उनकी कोशिश टीम को जिताने की है।

डुआन ऑलिवर ने यॉर्कशायर काउंटी क्रिकेट क्लब के साथ एक कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर करते हुए 2019 की शुरुआत में कोलपैक डील कर ली थी। हालांकि, इस साल की शुरुआत में कोलपैक सिस्टम की समाप्ति के बाद दाएं हाथ के तेज गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका लौट आए। इसी को ध्यान में रखते हुए चयनकर्ताओं ने उन्हें भारत के खिलाफ 26 दिसंबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए चुना है।

ऑलिवर ने स्वीकार किया कि उनसे काफी उम्मीदें हैं लेकिन उन्होंने कहा कि अतीत के रिकॉर्ड अब उतने मायने नहीं रखते हैं। ऑलिवर एक बार फिर से अच्छा करने को तैयार हैं। न्यूज़ 24 के हवाले से उन्होंने कहा,

दबाव और उम्मीदें भी बहुत अधिक हैं लेकिन तीन साल पहले मैंने जो कुछ भी हासिल किया, वह अतीत में है। मैं कोशिश करता हूं कि मैं अतीत को न देखूं। मैं एक अलग टीम में एक अलग व्यक्ति हूं जिसका अलग मैनेजमेंट है। सब कुछ अलग है, इसलिए आप इस पर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करें कि आप अभी क्या करना चाहते हैं और आप क्या हासिल करना चाहते हैं। हमें तीन टेस्ट खेलने हैं और वे महत्वपूर्ण हैं।

2017 में दक्षिण अफ्रीका के लिए टेस्ट डेब्यू करने वाले ऑलीवर ने 10 टेस्ट में 19.25 की औसत से 48 विकेट चटकाए हैं। एनरिक नॉर्टजे के चोटिल होकर टेस्ट सीरीज से बाहर होने के बाद, ऑलिवर को पहले टेस्ट में खेलने का मौका मिल सकता है।

अगर मैं चुना जाता हूं तो मुझे बड़ी खुशी होगी - डुआन ऑलिवर

ऑलीवर ने कहा कि वह जब भी कोई मैच खेलते हैं तो नर्वस होते हैं और वह कुछ ऐसा ही बॉक्सिंग डे टेस्ट में खेलने का मौका पाने पर महसूस करेंगे। उन्होंने कहा,

मैं फिर से डेब्यू नहीं कहूंगा लेकिन मुझे लगता है कि यह अलग होगा। जब भी कोई गेम खेलने की बात आती है तो मैं घबरा जाता हूं। अगर यह मेरा पहला ओवर है तो मैं बहुत नर्वस हूं, इसलिए यह एक अलग अहसास होगा। अगर मुझे खेलने के लिए चुना जाता है, तो मुझे बहुत ज्यादा ख़ुशी होगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar