Create

मार्को जानसेन की सराहना करते हुए शॉन पोलक ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

शॉन पोलक ने मार्को जानसेन को दक्षिण अफ्रीका के लिए एक खोज बताया
शॉन पोलक ने मार्को जानसेन को दक्षिण अफ्रीका के लिए एक खोज बताया
reaction-emoji
Prashant Kumar

हाल ही में इंडिया ए के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करने वाले मार्को जानसेन (Marco Jansen) को भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज (IND vs SA) के लिए स्क्वाड में जगह दी गयी थी और उन्हें पहले ही टेस्ट में डेब्यू का मौका भी मिल गया। जानसेन ने अपने डेब्यू टेस्ट में खासा प्रभावित भी किया है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज शॉन पोलक ने बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज मार्को जानसेन की प्रशंसा करते हुए उन्हें "दक्षिण अफ्रीका के लिए एक अच्छी खोज" बताया।

सेंचुरियन में भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में जानसेन ने बुधवार को भारत की दूसरी पारी में चार विकेट लिए और दो पारियों में कुल मिलाकर पांच विकेट हासिल किये। उन्होंने 4-55 के अपने शानदार स्पेल में भारतीय कप्तान विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे को भी अपना शिकार बनाया। उन्होंने अपने लम्बे कद का फायदा उठाया और भारतीय बल्लेबाजों को अतिरिक्त उछाल से काफी परेशान किया।

क्रिकबज से बात करते हुए, पोलक ने बताया कि जिस आउट-स्विंगर के साथ जानसेन ने कोहली को आउट किया, वह उनका नेचुरल वैरिएशन था, वह गेंद को इन स्विंग भी करा सकते है। प्रोटियाज लीजेंड ने कहा कि हालांकि 21 वर्षीय को दूसरे टेस्ट में अधिक अनुभवी डुएन ओलिवियर के लिए जगह खाली करनी पड़ सकती है। वह भविष्य के लिए विकल्प में हो सकते हैं। उन्होंने ने कहा,

जिस तरह से उन्होंने दूसरी पारी में वापसी की उससे मैं प्रभावित हुआ। मुझे लगता है कि वह दक्षिण अफ्रीका के लिए एक अच्छी खोज है। उनकी हाइट अच्छी है इसी के चलते उन्होंने चार विकेट लिए। उनके 455 के स्पेल में विराट कोहली का बेशकीमती विकेट भी शामिल था। उन्होंने विराट को आउट-स्विंगर गेंद पर आउट किया था। वो गेंद कमाल की थी। अगर आपको इंटरनेशनल लेवल पर बाएं हाथ का सफल तेज गेंदबाज बनना है तो आपको इसी तरह की गेंदबाजी करनी होगी।

उन्होंने आगे कहा

भारत या उपमहाद्वीप में हो सकता है कि कभी-कभी गेंद एज ले जाए और कैरी ना करें लेकिन यहां (दक्षिण अफ्रीका में) उन्हें बहुत घास मिलने वाली है, वे [बल्लेबाज] उछाल वाली गेंदों को खेलने से आउट हो सकते है। वह हमारे लिए एक अच्छी खोज रहे है। मुझे नहीं पता कि ओलिवियर के आने से वह अगला गेम खेलेंगे या नहीं। लेकिन फिर भी वह अफ्रीका के लिए अच्छी खोज है, मुझे लगता है कि हम उनसे आगे भविष्य में बहुत सारी अच्छी चीजें देखने जा रहे हैं।

जानसेन ने रहाणे के विकेट के साथ वापसी करने की अपनी क्षमता भी दिखाई। भारतीय बल्लेबाज ने उनकी गेंद पर उन्हें तीन चौके और एक छक्का लगाया। लेकिन जानसेन अपनी स्ट्रेंथ पर कायम रहे और एक अच्छे बाउंसर के साथ दाएं हाथ के बल्लेबाज रहाणे को आउट कर दिया।

ऐसे में गेंदबाज की भावनाओं के बारे में बोलते हुए पोलक ने कहा,

जो चल रहा है उससे आप थोड़ा चिढ़ जाते हैं। जब कोई बस कवर पर शॉट खेलता है और वह बाउंड्री मिल जाती है, तो आपको इतना बुरा नहीं लगता है। लेकिन जब कोई प्रॉपर बेहतरीन शॉट खेलते हुए आपकी पिटाई करता है, तब आपको गुस्सा आता है।

रवि शास्त्री ने जानसेन को मौका दिया था

दिलचस्प बात यह है कि जानसेन को पहली बार भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री और उनकी टीम ने 2018 में भारत के दक्षिण अफ्रीका के दौरे के दौरान खोजा था। शास्त्री ने युवा खिलाड़ी को नेट्स में गेंदबाजी करने के लिए बुलाया, जहां उन्होंने कोहली सहित सभी को प्रभावित किया। इस वजह से उनकी क्रिकेट की जर्नी शुरू हुई और अब उन्होंने अपना टेस्ट डेब्यू किया।

Marco Jansen bowled to Virat Kohli in 2018 at nets and 3 years later, he got Virat Kohli on his Test debut. https://t.co/8oi0WMKxnQ

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...