Create

लंच के बाद भारत की रणनीति को लेकर पूर्व दिग्गज खिलाड़ी ने उठाए सवाल 

दक्षिण अफ्रीका के टेम्बा बवुमा शॉट खेलते हुए
दक्षिण अफ्रीका के टेम्बा बवुमा शॉट खेलते हुए

दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने केपटाउन टेस्ट (IND vs SA) के चौथे दिन लंच के बाद भारत ने जो रणनीति अपनाई, उससे खुश नजर नहीं आए। प्रोटियाज ने चौथे दिन शानदार बल्लेबाजी की और भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका में पहली टेस्ट सीरीज जीतने के इन्तजार को और बढ़ा दिया। मेहमान टीम ने 7 विकेट से जीत दर्ज करते हुए आखिरी मैच और सीरीज दोनों ही अपने नाम की।

दक्षिण अफ्रीका को लंच में जीत के लिए केवल 41 रनों की जरूरत थी और सात विकेट अभी भी शेष थे। दूसरे सत्र में, मेजबान टीम ने शेष रन बनाने के लिए सिर्फ 8.3 ओवर का समय लिया। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी या शार्दुल ठाकुर का इस्तेमाल न करने की भारत की रणनीति पर गावस्कर ने हैरानी जताई।

गावस्कर ने कमेंट्री के दौरान कहा,

यह मेरे लिए एक रहस्य था कि शार्दुल ठाकुर और जसप्रीत बुमराह लंच के बाद गेंदबाजी क्यों नहीं की। यह लगभग ऐसा था जैसे भारत ने तय कर लिया था कि वे इसे जीतने नहीं जा रहे हैं।

लंच के बाद विराट कोहली ने उमेश यादव और आर अश्विन का इस्तेमाल किया। इन दोनों गेंदबाजों के खिलाफ टेम्बा बवुमा और रसी वैन डर डुसेन ने आसानी से रन बनाते हुए अपनी टीम को 212 रन के टारगेट को हासिल करने में मदद की।

अश्विन की गेंदबाजी के समय भारत ने डिफेंसिव एप्रोच अपनाया - सुनील गावस्कर

अश्विन की गेंदबाजी के समय गावस्कर ने भारतीय टीम के डिफेंसिव एप्रोच का जिक्र किया। उन्होंने कहा,

अश्विन के लिए फील्ड प्लेसमेंट (सही नहीं था)... सिंगल आसानी से उपलब्ध थे। पांच फील्डर डीप में थे। बल्लेबाजों को मौका लेने दें क्योंकि उन्हें आउट करने का आपके पास यही एकमात्र मौका है।

गावस्कर ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों की तारीफ की। उन्होंने कहा कि जोहान्सबर्ग हो या फिर मौजूदा टेस्ट, दोनों ही मैचों में विपक्षी बल्लेबाजों ने जिस तरह से खेला, वो काबिलेतारीफ है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment