राजकोट के बड़े मैदान को स्पिनरों के लिए अच्छा बताते हुए प्रमुख भारतीय गेंदबाज ने दी प्रतिक्रिया

हर्षल पटेल ने सीरीज में शानदार गेंदबाजी की है
हर्षल पटेल ने सीरीज में शानदार गेंदबाजी की है

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी20 सीरीज (IND vs SA) का चौथा मैच राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में शुक्रवार की शाम खेला जाना है। यह मैदान अन्य मैदानों की तुलना में आकार में बड़ा है। इसी वजह से तेज गेंदबाज हर्षल पटेल (Harshal Patel) का मानना है कि इस मैदान में स्पिनर थोड़ा और अधिक खुलकर गेंदबाजी कर पाएंगे।

भारतीय टीम ने पिछले मुकाबले में प्रोटियाज टीम को 48 रनों से मात दी थी और उनकी कोशिश राजकोट में जीत दर्ज करते हुए सीरीज बराबर करने की होगी। विशाखापट्नम में मिली जीत भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल ने काफी अच्छी गेंदबाजी की थी और चहल को उनके शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के कारण प्लेयर ऑफ़ द मैच भी चुना गया था ।

चौथे टी20 से पहले हर्षल ने बताया कि आखिर क्यों पिच के फ्लैट होने के बावजूद बड़ी बाउंड्री स्पिनरों को गेम नियंत्रित करने में मदगार होंगी। उन्होंने कहा,

हमारी टीम में विश्व स्तरीय स्पिनर भी हैं जो किसी भी पिच पर अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं, लेकिन जब हमारे पास थोड़ी धीमी पिच और थोड़ा बड़ा ग्राउंड होता है तो यह उन्हें खेल में और प्रभावशाली बनाता है।

हर्षल पटेल ने विशाखापट्नम की पिच को बताया धीमा

विशाखापट्नम में खेले गए तीसरे टी20 मैच में हर्षल पटेल ने 25 रन देकर चार विकेट लिए थे और अपने टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आंकड़े दर्ज किये थे। हर्षल ने दिल्ली की पिच को बेहतर बताया और पिछले मैच की पिच को धीमे बताया, जिससे उन्हें अपनी विविधताओं को प्रभावी ढंग से इस्तेमाल करने में मदद मिली। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने कहा,

(विशाखापट्नम) पिच से बहुत अधिक परिवर्तनशील उछाल या गति नहीं थी, निश्चित रूप से धीमा विकेट था। इससे हमें कठिन लेंथ और धीमी गेंदें पिच में डालने का मौका मिला। उन लेंथ से बाउंड्री क्लियर करना मुश्किल था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar