Create

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए हार्दिक पांड्या के बल्लेबाजी पोजीशन को लेकर आई प्रतिक्रिया 

हार्दिक पांड्या लम्बे समय बाद भारत के लिए खेलेंगे
हार्दिक पांड्या लम्बे समय बाद भारत के लिए खेलेंगे

गुजरात टाइटंस (GT) के लिए हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने आईपीएल 2022 (IPL 2022) में ऊपर बल्लेबाजी करते हुए दिखाया कि वह फिनिशर ही नहीं बल्कि एंकर करते हुए भी बल्लेबाजी कर सकते हैं। हालाँकि विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा (Rajkumar Sharma) का मानना है कि भारतीय टीम में टीम मैनेजमेंट के मुताबिक ही हार्दिक की बल्लेबाजी पोजीशन निर्धारित की जायेगी।

हार्दिक ने बतौर कप्तान अपनी टीम के लिए मुख्य रूप से नंबर 4 पर ही बल्लेबाजी की और इस जिम्मेदारी को बखूबी निभाया। उनकी टीम में टॉप ऑर्डर के लिए ज्यादा विकल्प नहीं थे, इसी वजह से उन्होंने आगे आकर खुद जिम्मा उठाया।

इंडिया न्यूज़ पर चर्चा के दौरान राजकुमार शर्मा से पूछा गया कि क्या वह हार्दिक को आगामी टी20 में नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए देखते हैं। इस पर उन्होंने कहा,

हार्दिक पांड्या ने आईपीएल में असाधारण रूप से अच्छी बल्लेबाजी की है और जिस तरह से उन्होंने जिम्मेदारी ली वह शानदार थी। वह वहां कप्तान के तौर पर खेल रहे थे लेकिन यहां वह कप्तान नहीं है। तो यहां उनके लिए एक भूमिका निर्धारित की जाएगी जबकि वहां वे खुद तय करते थे। मुझे नहीं लगता कि उन्हें नंबर 4 पर बल्लेबाजी करने के लिए कहा जाएगा। मुझे लगता है कि उनकी भूमिका भारतीय टीम में फिनिशर की होगी।

वेंकटेश अय्यर से पहले हार्दिक को मिलेगा मौका - राजकुमार शर्मा

राजकुमार शर्मा से यह भी पूछा गया कि क्या वह हार्दिक पांड्या और वेंकटेश अय्यर को इलेवन में एक साथ खेलते हुए देखते हैं। उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि हार्दिक पांड्या को फिनिशर के रूप में पहले मौका मिलेगा क्योंकि उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। और मेरा शुरू से ही मानना है कि हार्दिक पांड्या नंबर 1 ऑलराउंडर हैं। वह चोट के कारण गेंदबाजी नहीं कर रहे थे, तब भी मैंने कहा था कि वह इलेवन में बतौर फिनिशर के रूप में खेल सकते हैं। अब जब वह गेंदबाजी कर रहे हैं, मुझे नहीं लगता कि उनके लिए कोई प्रतिस्पर्धा है, वह अकेले मैच विजेता हैं और एक ऐसे खिलाड़ी, जो भारत को किसी भी स्थिति से मैच जिताने का दमखम रखते हैं।

शर्मा ने यह भी कहा कि हार्दिक को चयनकर्ता, कप्तान और टीम मैनेजमेंट द्वारा पूरा समर्थन दिया जाना चाहिए तथा उन्हें खुद को साबित करने को पर्याप्त मौके मिलने चाहिए।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment