Create

ऋतुराज गायकवाड़ की तीसरे टी20 मैच में खेली गई धमाकेदार पारी को लेकर दिग्गज ने प्रशंसा करते हुए दी बड़ी प्रतिक्रिया

अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट खेलते हुए ऋतुराज गायकवाड़
अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट खेलते हुए ऋतुराज गायकवाड़

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज (IND vs SA) में भारतीय टीम के दो ओपनर्स में एक की भूमिका निभा रहे ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने तीसरे टी20 मैच में जबरदस्त बल्लेबाजी की। उन्होंने शुरू से ही आक्रामक रवैया अपनाया और गेंदबाजों को सेट होने का मौका नहीं दिया। गायकवाड़ ने 35 गेंदों में 57 रन बनाये। उनकी इस पारी में सात चौके और दो छक्के भी शामिल थे। युवा ओपनर की इस पारी के बाद पूर्व भारतीय खिलाड़ी वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने उनकी जमकर तारीफ़ की है। जाफर ने कहा कि शुरूआती दो मैचों में अधिक रन ना बनाने के बावजूद और टीम में ओपनिंग स्पॉट को लेकर बढ़ती स्पर्धा को देखते हुए, उन्होंने एक बहुत अच्छी पारी खेली।

केएल राहुल एक चोटिल होकर बाहर होने के बाद गायकवाड़ को ओपनिंग का मौका मिला। पहले मैच में उन्होंने 23 रन बनाये थे। वहीं दूसरे मैच में उनके बल्ले से महज एक रन आया। दोनों मैचों में ही भारत की हार हुई और टीम से उन्हें ड्रॉप किये जाने के भी सुझाव आये। हालाँकि ओपनिंग बल्लेबाज ने तीसरे मैच में अच्छी बल्लेबाजी की और अपने जोड़ीदार इशान किशन (35 गेंदों में 54) के साथ पहले विकेट के लिए 97 रन जोड़े। इस साझेदारी की मदद से भारत ने 180 रन का लक्ष्य रखा और बाद में 48 रनों से जीत दर्ज की।

ईएसपीएन क्रिकइंफो से बात करते हुए, जाफर ने किशन, गायकवाड़ और हार्दिक पांड्या की तारीफ की (21 रन पर 31 रन)। उन्होंने दाएं हाथ के ओपनर की खास तौर पर प्रशंसा की। पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा,

पहले बल्लेबाजी करते समय बड़ा स्कोर खड़ा करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि हम पहले बल्लेबाजी करने के बाद आखिरी दो मैच हार गए थे। पहले दो मैचों में अच्छा स्कोर नहीं बना पाने के बाद उन्होंने जिस तरह से बल्लेबाजी की उसके लिए आपको रुतुराज गायकवाड़ की तारीफ करनी होगी। इशान किशन शानदार रहे। वह इस सीरीज में काफी कंसिस्टेंट रहे हैं, उन्होंने अपना दूसरा अर्धशतक बनाया। वह साझेदारी, 10 ओवर में 97 रन बनाना और अन्य बल्लेबाजों के लिए वह आधार बनाना बहुत महत्वपूर्ण था।

दबाव में ऋतुराज ने अच्छा प्रदर्शन किया - वसीम जाफर

जाफर ने आगे कहा,

भारत ने 13वें और 18वें ओवर के बीच एक के बाद एक विकेट गंवाए और कैच छोड़े, थोड़ा लकी भी रहे। लेकिन हार्दिक पांड्या ने फिनिश करते हुए इसे 180 के वास्तव में अच्छे स्कोर तक पहुंचा दिया। लेकिन रुतुराज गायकवाड़ अधिक प्रशंसा के पात्र हैं। वह दबाव में था, अधिक रन ना होने के बावजूद अपना तीसरा गेम खेल रहा था, उनके स्थान के लिए काफी सारे लोग बैठे हुए हैं, एक शानदार प्रदर्शन था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment