Create

"रोहित शर्मा प्लेइंग XI में अपनी बल्लेबाजी की वजह से हैं"- पूर्व खिलाड़ी ने भारतीय कप्तान को बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने की दी सलाह 

कप्तान बनने के बाद रोहित शर्मा का प्रदर्शन बल्ले से साधारण रहा है
कप्तान बनने के बाद रोहित शर्मा का प्रदर्शन बल्ले से साधारण रहा है
reaction-emoji
Prashant Kumar

कप्तानी कई बार किसी खिलाड़ी की बल्लेबाजी को नकारात्मक तरीके से भी प्रभावित करती है और कुछ ऐसा ही रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को भी देखकर लग रहा है। पूर्णकालिक कप्तान बनने के बाद रोहित का बल्ला खामोश ही रहा और इसी वजह से उन पर सवाल भी उठाये जा रहे हैं। इस बीच पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज सबा करीम (Saba Karim) ने रोहित शर्मा को तीनों प्रारूपों में कप्तान बनने के बाद बल्लेबाजी से ध्यान न हटाने की सलाह दी है।

रोहित की अगुवाई में भारतीय टीम अभी तक अजेय है और टीम की विनिंग स्ट्रीक कायम है। हालांकि उनकी पिछली दो टी20 सीरीज बल्ले के साथ काफी खराब रही हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 पारियों में 66 तथा श्रीलंका के खिलाफ इतनी ही पारियों में महज 50 रन निकले।

खेलनीति पॉडकास्ट पर सबा ने कहा,

रोहित शर्मा अपनी बल्लेबाजी के कारण इलेवन में हैं। कप्तानी एक अतिरिक्त जिम्मेदारी है। उन्हें बल्लेबाजी के मामले में अपना ध्यान नहीं खोना चाहिए। कई बार हमने देखा है कि कप्तान अपने प्राथमिक कौशल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा,

रोहित शर्मा के लिए यह सिर्फ शुरुआती फेज है। उन्हें धीरे-धीरे एहसास होगा कि टीम के लिए उनके रन कितने महत्वपूर्ण हैं। उनका प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया में (टी20 वर्ल्ड कप के दौरान) महत्वपूर्ण होगा, जहां मैदान बड़े हैं और विरोधी के पास उच्च गुणवत्ता वाले गेंदबाज हैं। इसलिए रोहित शर्मा को इस क्षेत्र में काम करने की जरूरत है।

श्रेयस अय्यर जैसे खिलाड़ी की भारतीय टीम के मध्यक्रम में जरूरत है - राजकुमार शर्मा

Special series ❤️ Thanks for your wishes 🙏🇮🇳 https://t.co/Gta2X5GT6x

श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर के लिए यादगार साबित हुई। उन्होंने तीनों मैचों में नाबाद अर्धशतकीय पारियां खेली और नंबर 3 पर बल्लेबाजी करते हुए 204 रन बनाए।

श्रेयस अय्यर के शानदार प्रदर्शन से प्रभावित होकर विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने कहा,

श्रेयस अय्यर ने जिस तरह से अपनी पारी को गति दी वह बहुत प्रभावशाली है। वह बड़े स्ट्रोक खेल सकते हैं और उनके पास बहुत अच्छी तकनीक और टेम्परामेंट भी है। वह उस तरह का खिलाड़ी है जिसकी भारत को मध्य क्रम में जरूरत है, कोई ऐसा व्यक्ति जो रोहित या कोहली के आउट होने पर पारी को स्थिर कर सके। श्रेयस अय्यर और सूर्यकुमार यादव ने ऐसा करने की क्षमता दिखाई है।

श्रेयस अय्यर के अच्छे प्रदर्शन को राजकुमार शर्मा ने टीम इंडिया के मध्यक्रम के लिए अच्छी खबर बताई और उम्मीद जताई कि यह बल्लेबाज वर्ल्ड कप के लिए टीम में अपनी जगह पक्की करेगा।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...