"90 के दशक में पाकिस्तान द्वारा की गई गलती दोहरा रहा है भारत"- लगातार कप्तान बदलने के मामले पर पूर्व पाकिस्तानी कप्तान का बयान

England v India - 3rd Royal London Series One Day International
England v India - 3rd Royal London Series One Day International

जिम्बाब्वे दौरे पर होने वाली वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम घोषित होने के बाद से ही एक बार फिर चर्चा शुरु हो गई है। इस सीरीज में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) नहीं खेलेंगे और एक बार फिर से शिखर धवन (Shikhar Dhawan) को कप्तानी सौंपी गई है। भारतीय टीम इस साल लगातार कप्तान बदल रही और सात-आठ खिलाड़ी इस साल भारत की कप्तानी कर चुके हैं। पूर्व पाकिस्तानी कप्तान राशिद लतीफ (Rashid Latif) ने इस बात पर गौर करते हुए कहा है कि भारत 90 के दशक में पाकिस्तान द्वारा की गई गलती को दोहरा रहा है। लतीफ ने कहा,

बैकअप की बात हर कोई करता है, लेकिन उन्होंने एक साल में सात बैकअप कप्तान बना दिए हैं। भारतीय इतिहास में पहली बार मैं ऐसा देख रहा हूं। विराट कोहली, केएल राहुल, रोहित शर्मा, शिखर धवन, ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या भारत की कप्तानी कर चुके हैं। वे 1990 के दौर में पाकिस्तान द्वारा की गई गलती को दोहरा रहे हैं।

"कप्तानी के अलावा अन्य चीजों पर नहीं दे रहे ध्यान"- लतीफ

लतीफ का मानना है कि भारत कप्तानी के बैकअप बनाने के चक्कर में अन्य चीजों पर ध्यान नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा,

उन्हें एक शुद्ध ओपनर नहीं मिला है और ना ही उनका मध्यक्रम ही स्थिर है। उन्हें केवल नया कप्तान चाहिए। कोई कप्तान भी उनके लिए निरंतरता के साथ नहीं खेल रहा है। राहुल अनफिट हैं, रोहित भी कुछ दिन पहले अनफिट थे। विराट मानसिक तौर पर अनफिट हैं। उन्हें इस बारे में सोचने की जरूरत है। वे काफी ज्यादा कप्तान बदल रहे हैं। उन्हें सौरव गांगुली, एमएस धोनी या विराट कोहली जैसे कप्तान की जरूरत है।

कोहली की कप्तानी में भारत का प्रदर्शन शानदार रहा था, लेकिन पिछले साल नवंबर में उन्होंने टी20 टीम की कप्तानी अचानक छोड़ दी थी। इसके बाद उनसे वनडे की कप्तानी ली गई और टेस्ट में उन्होंने खुद से कप्तानी छोड़ दी थी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar