Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

INDvAUS: तीसरे एकदिवसीय मुकाबले के दौरान पैट कमिंस ने हार्दिक पांड्या को हतोत्साहित करने की कोशिश की, पांड्या ने अपनी शानदार पारी से दिया करारा जवाब

SENIOR ANALYST
Modified 25 Sep 2017
Advertisement
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जब भी मैच होते हैं तो मैदान पर खिलाड़ियों के बीच सरगर्मी तेज हो जाती है। खासकर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी माइंडगेम या स्लेजिंग के जरिए विपक्षी खिलाड़ी पर दबाव बनाने में माहिर हैं। इंदौर में खेले गए तीसरे एकदिवसीय मैच के दौरान भी कुछ ऐसा ही हुआ। लेकिन इस बार ऑस्ट्रेलियाई टीम को दांव उल्टा पड़ गया। भारतीय पारी के 26वें ओवर में ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को हतोत्साहित करना चाहा। लेकिन पांड्या ने अपनी शानदार मैच जिताऊ पारी से उनको करारा जवाब दिया। पांड्या ने अपनी पारी से भारत को ना केवल मैच जिताया बल्कि श्रृंखला में भारतीय टीम 3-0 से आगे हो गई है। कमिंस जब गेंदबाजी के लिए आए तो पांड्या उससे पहले एश्टन एगर की गेंद पर एक शानदार छक्का लगा चुके थे। कमिंस पांड्या को घबराहट में डालकर आउट करना चाहते थे, ताकि पांड्या कोई गलत शॉट खेल दें और उनको विकेट मिल जाए। कमिंस के ओवर की दूसरी गेंद पर पांड्या ने गेंद को प्वॉइंट और बैकवर्ड प्वॉइंट के बीच से खेलना चाहा, लेकिन गेंद सीधे फील्डर के हाथ में गई। इसके बाद कमिंस ने हार्दिक पांड्या को कुछ कहा।   cummins अगली ही गेंद पर पांड्या ने फिर से गेंद को फील्डर के हाथ में खेल दिया। दोबारा कमिंस ने पांड्या को कुछ कहा। पांड्या ने उनसे कहा कि उन्होंने उनसे जो कहा वो सुन नहीं पाए। कृप्या तेज बोलें। इसके बाद कप्तान कोहली आगे आए और उन्होंने शांत कराया।   ppppp पांड्या हालांकि कमिंस को तुरंत जवाब देना चाहते थे और उन्होंने ऐसा करना भी चाहा, लेकिन गेंद उनके सीधा पैड पर लगी। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने जोरदार अपील की लेकिन अंपायर ने उसे नकार दिया। इसके बाद पांड्या संभल गए और उन्होंने शानदार पारी खेली। उनकी शानदार पारी की बदौलत भारत ने आसानी से मैच जीत लिया। पांड्या को ऑलराउंडर प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द् मैच भी चुना गया।  
Published 25 Sep 2017, 10:59 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now