Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IND vs AUS: भारत के खिलाफ तीसरे वनडे में ऑस्ट्रेलिया की हार के 3 बड़े कारण

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 20 Jan 2020, 12:24 IST

 रोहित-विराट
रोहित-विराट

क्रिकेट की किसी सीरीज में पिछड़कर जीतना काफी मायने रखता है और हर कोई उसकी चर्चा भी करता है। ऐसा ही कुछ भारतीय टीम ने किया। वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में बुरी तरह शिकस्त झेलने के बाद टीम इंडिया ने अगले दोनों मैच जीतकर सभी को हैरान करने के अलावा यह भी बता दिया कि क्यों उन्हें इस खेल का बादशाह कहा जाता है। रविवार को बैंगलोर में हुए अंतिम मैच में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को मैच में चारों खाने चित कर दिया। कंगारू गेंदबाजों को समझ नहीं आया कि लक्ष्य का पीछा कर रही भारतीय टीम के बल्लेबाजों को कहाँ गेंद फेंकी जाए।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया जो उनके लिए उल्टा पड़ा। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम के गेंदबाजों के सामने कंगारू टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाका रही और उन्हें सात विकेट से बड़ी पराजय का सामना करना पड़ा। स्टीव स्मिथ ही ऐसा बल्लेबाज थे जिन्होंने टिककर बल्लेबाजी करते हेउ एक शानदार शतक जड़ा। बाकी बल्लेबाजों ने निराशाजनक प्रदर्शन ही किया जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया को निर्णायक मैच में साथ सीरीज भी हाथ से गंवानी पड़ी।

ऑस्ट्रेलिया के ओपनरों का फ्लॉप खेल

 डेविड वॉर्नर
डेविड वॉर्नर

डेविड वॉर्नर और आरोन फिंच ने पहले मैच में तगड़ी साझेदारी की थी जिससे टीम को दस विकेट से जीत मिली। इसके बाद उनके खेल में गिरावट आई। बेंगलुरु वनडे में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला। वॉर्नर विकेट के पीछे महज तीन रन के निजी स्कोर पर लपके गए। दूसरी तरफ आरोन फिंच 19 रन बनाकर रन आउट हो गए। इन दोनों के आउट होने पर टीम दबाव में आ गई और कुल स्कोर तीन सौ से कम ही रहा। भारतीय टीम ने इसका भरपूर फायदा उठाते हुए लक्ष्य हासिल कर सीरीज पर कब्जा जमाया। भारतीय बल्लेबाजों ने जमकर बल्लेबाजी की और मैच जीता।

1 / 2 NEXT
Published 20 Jan 2020, 12:24 IST
Advertisement
Fetching more content...