Hindi Cricket News: चयनकर्ता को धमकी देना संजय बांगर को पड़ा महंगा, बीसीसीआई कर सकती है कार्रवाई

संजय बांगर
संजय बांगर

भारतीय टीम के कोच की चयन प्रक्रिया के दौरान टीम का बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर को बनाया गया है, जबकि भारतीय टीम के पूर्व कोच संजय बांगर का कार्यकाल वेस्टइंडीज दौरे तक के लिए बढ़ाया गया था। इस दौरे के खत्म होने के साथ ही बांगर की इस पद से छुट्टी भी हो गई है। हालांकि अपना कार्यकाल समाप्त होने के साथ ही अब संजय बांगर मुश्किलों में घिरते नजर आ रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक संजय बांगर पर आरोप लगा है कि जब कोचिंग स्टाफ के चयन के लिए इंटरव्यू प्रक्रिया चल रही थी, उस दौरान वह चयनकर्ता देवांग गांधी के कमरे में गए और वहां पर उन्होंने अपना चयन न होने को लेकर समिति को चेतावनी दी थी। बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा, "जब चयन समिति साक्षात्कार की प्रक्रिया को अजांम दे रही थी, उसी दौरान संजय बांगर ने देवांग गाधी के कमरे का दरवाजा खटखटाया। इस दौरान उन्होंने अपने चयन के खिलाफ निर्णय लेने पर समिति को चेतावनी दी।"

रिपोर्ट के मुताबिक बांगर ने यह भी कहा है कि अगर उन्हें भारतीय बल्लेबाजी कोच के रूप में फिट नहीं माना जाता है, तो फिर उन्हें नेशनल क्रिकेट अकादमी में किसी पद पर शामिल किया जाना चाहिए। जबकि बोर्ड के अधिकारी का कहना है, "एनसीए में नियुक्ति करना चयन समिति का काम नहीं है। बोर्ड बांगर के इस व्यवहार से बेहद नाराज है। बांगर से जुड़ी ऐसी कई घटनाएं प्रशासनिक समिति के ध्यान में लाई गई है।"

यह भी पढ़ें : उन्मुक्त चंद ने भावुक संदेश के साथ दिल्ली को कहा अलविदा, अब उत्तराखंड की ओर से खेलेंगे क्रिकेट

संजय बांगर के इस रुख पर बीसीसीआई की ओर से कहा गया है कि टीम मैनेजर सुनील सुब्रमण्यम या फिर मुख्य कोच रवि शास्त्री के आधिकारिक रिपोर्ट फाइल करने के बाद ही संजय बांगर से पूछताछ की जाएगी। गौरतलब है कि टीम के लिए कोच की चयन प्रक्रिया के दौरान जहां फील्डिंग कोच आर. श्रीधर और गेंदबाजी कोच भरत अरुण अपनी जगह बचाने में कामयाब रहे, तो वहीं संजय बांगर की जगह विक्रम राठौर को टीम का नया बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया गया है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now