Create
Notifications

भारतीय खिलाड़ियों द्वारा किए गए 3 यादगार प्रदर्शन जिसके बावजूद टीम को मिली हार 

भारतीय खिलाड़ियों द्वारा किए गए यह प्रदर्शन गए थे बेकार
भारतीय खिलाड़ियों द्वारा किए गए यह प्रदर्शन गए थे बेकार
मयंक मेहता

भारतीय टीम (Indian Team) का प्रदर्शन क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में काफी शानदार रहा है। भारत ने बतौर टीम तो अच्छा किया ही है, बल्कि साथ ही में टीम के खिलाड़ियों की तरफ से काफी शानदार प्रदर्शन देखने को मिले हैं। वनडे, टेस्ट और टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाला खिलाड़ी भारतीय ही है।

इसके अलावा वनडे क्रिकेट में सबसे बेस्ट व्यक्तिगत स्कोर भारतीय खिलाड़ी रोहित शर्मा के नाम ही हैं। टी20 क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक (12 गेंद) और एक ओवर में 6 छक्के लगाने का विश्व रिकॉर्ड भी भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी युवराज सिंह के नाम ही है। टेस्ट और वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा मैच खेलने वाला खिलाड़ी भी एक भारतीय ही है। सचिन तेंदुलकर के नाम यह विश्व रिकॉर्ड है।

जब कोई भी खिलाड़ी मैदान पर उतरता है, तो उसकी नजर अच्छा प्रदर्शन करते हुए टीम को जीत दिलाने पर होती है। हालांकि अक्सर हमने देखा है कि खिलाड़ी यादगार प्रदर्शन तो करता है, लेकिन वो टीम को जीत दिलाने में कामयाब नहीं हो पाते हैं।

इस आर्टिकल में हम भारतीय खिलाड़ियों द्वारा किए गए यादगार प्रदर्शन के ऊपर ही नजर डालेंगे:

#) सचिन तेंदुलकर vs ऑस्ट्रेलिया (175 रन)

सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर

भारतीय और ऑस्ट्रेलिया टीम के बीच 2009 में सीरीज का 5वां मुकाबला हैदराबाद में खेला गया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने शॉन मार्श (112 रन) की शतकीय पारी की बदौलत 350-4 का विशाल स्कोर खड़ा किया और भारत को चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया।

हालांकि भारतीय टीम ने भी बड़ी मजबूती के साथ रन चेज की शुरुआत की। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर की सबसे यादगार पारियों में से एक खेली। सचिन तेंदुलकर ने 141 गेंदों में 19 चौके और 4 छक्कों की मदद से 175 रन बनाए। वो 332 के स्कोर पर 48वें ओवर में सातवें विकेट के रूप में आउट हुए। हालांकि तेंदुलकर जब आउट हुए, तो भारत की जीत की उम्मीद जीवित थी, लेकिन सचिन के बाद सेट बल्लेबाज रविंद्र जडेजा भी आउट हो गए और अंत में भारत आखिरी ओवर में 347 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई और 3 रनों से इस मैच को हार गई।

सचिन तेंदुलकर द्वारा खेली गई उनके करियर की सबसे यादगार और शानदार पारियों में से एक बेकार चली गई और भारत मैच जीतने में नाकाम रहा।

#) इरफान पठान vs पाकिस्तान (हैट्रिक)

इरफान पठान की हैट्रिक
इरफान पठान की हैट्रिक

भारत और पाकिस्तान के बीच 2006 में कराची में सीरीज का तीसरा टेस्ट मुकाबला खेला गया था। भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। इरफान पठान ने मैच के पहले ही ओवर को यादगार बना दिया और इतिहास रच दिया। इरफान पठान ने ओवर की चौथी, पांचवीं और आखिरी गेंद पर सलमान बट्ट, यूनिस खान और मोहम्मद यूसुफ को आउट किया और ऐतिहासिक हैट्रिक ली।

इरफान पठान ने इस हैट्रिक समेत पारी में 5 विकेट लिए, जिसके कारण ही पहली पारी में पाकिस्तान 245 रनों पर ढेर हो गई। इसके जवाब में भारत भी अपनी पहली पारी में सिर्फ 238 रनों पर ढेर हो गई। हालांकि यहां तक मुकाबला बराबरी का लग रहा था, लेकिन दूसरी पारी में पाकिस्तान ने जबरदस्त खेल दिखाते हुए 599-7के स्कोर पर पारी घोषित की और भारत दूसरी पारी में 265 रनों पर ऑलआउट हो गया।

भारत इस मैच को 341 रनों से हार गया और इरफान पठान की ऐतिहासिक हैट्रिक बेकार हो गई। निश्चित ही इरफान पठान ने जिस तरह मैच की शुरुआत की थी, उस समय ऐसे परिणाम की उम्मीद किसी ने नहीं की थी।

#) रविंद्र जडेजा vs न्यूजीलैंड (77 रन)

रविंद्र जडेजा ने खेली थी बेहद यादगार पारी
रविंद्र जडेजा ने खेली थी बेहद यादगार पारी

2019 वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल मुकाबला भारत और न्यूजीलैंड के बीच मेनचेस्टर में खेला गया। न्यूजीलैंड की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम की सधी हुई गेंदबाजी की बदौलत 239-8 का स्कोर ही बना पाई और भारत को 240 रनों का लक्ष्य जीतने के लिए दिया।

भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही थी और टीम ने 5 के स्कोर तक रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली के रूप में तीन महत्वपूर्ण विकेट गंवा दिए थे। 92 के स्कोर पर टीम ने 6 विकेट गंवा दिए थे और टीम की स्थिति बेहद खराब थी।

हालांकि रविंद्र जडेजा ने इस मौके पर आकर यादगार पारी खेलते हुए धुआंधार अर्धशतक लगाया। रविंद्र जडेजा ने 59 गेंदों में 4 चौके और 4 छक्कों की मदद से 77 रनों की तूफानी पारी खेली और भारत को मैच में वापस लेकर आए। जडेजा 208 के स्कोर पर 48वें ओवर में आउट हुए। इसके बाद धोनी से उम्मीद थी, लेकिन धोनी के आउट होते ही भारत की उम्मीद खत्म हो गई।

भारत सेमीफाइनल मुकाबला 18 रनों से हार गया और वर्ल्ड कप जीतने का सपना टूट गया था। वर्ल्ड कप 2019 सेमीफाइनल में मिली हार भारतीय टीम और फैंस को अभी भी याद है।

Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...