Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

NZ vs IND: पहले वनडे में धीमे ओवर रेट के कारण भारतीय टीम पर 80 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगा

  • भारतीय टीम के लिए यह फैसला काफी शर्मनाक कहा जा सकता है
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
न्यूज़
Modified 06 Feb 2020, 11:39 IST

विराट कोहली
विराट कोहली

धीमा ओवर रेट भारतीय टीम के लिए एक नई समस्या बनकर उभरा है। लगातार तीसरे मैच में इस वजह से आईसीसी ने टीम पर जुर्माना लगाया है। हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच में 80 फीसदी मैच का जुर्माना भारतीय टीम पर लगाया गया है। गेंदबाजी के दौरान धीमी गति से ओवर फेंकने के चलते ऐसा हुआ है। अगर यह गति थोड़ी और धीमी होती तो पूरी सौ फीसदी मैच फीस काटने का जुर्माना भी लग सकता था।

हैमिल्टन वनडे में भारतीय टीम निर्धारित समय से चार ओवर पीछे चल रही थी। इस धीमी गति से गेंदबाजी करने के कारण मैच के बाद एक्शन लिया गया। प्रति ओवर बीस फीसदी मैच फीस के हिसाब से चार ओवर के लिए अस्सी फीसदी मैच फीस काटने का फरमान आईसीसी ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को सुनाया।

यह भी पढ़ें: भारत-न्यूजीलैंड वनडे के सभी प्रमुख आंकड़ों पर एक नज़र

मैदानी अम्पायर शॉन हैग तथा लैंटन रुसेर ने भारतीय टीम पर चार्ज लगाए। इसके बाद आईसीसी के मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड ने मामले पर संज्ञान लेते हुए मैच फीस का जुर्माना भारतीय कप्तान विराट कोहली को सुनाया। विराट कोहली ने दोष मानते हुए लगाए गए चार्ज स्वीकार किये हैं। इस मामले में आगे किसी तरह की कोई सुनवाई नहीं होगी।

न्यूजीलैंड दौरे पर भारतीय टीम को धीमे ओवर रेट की वजह से तीसरी बार सजा का पात्र बनना पड़ा है। इससे पहले टी20 सीरीज के चौथे मैच के बाद चालीस फीसदी मैच फीस का जुर्माना उन पर लगा था। पांचवें टी20 मैच में विराट कोहली नहीं खेल रहे थे लेकिन टीम पर बीस फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगा। रोहित शर्मा चोट के कारण फील्डिंग पर नहीं थे और उनकी जगह केएल राहुल कप्तानी कर रहे थे। लगातार इस तरह एक ही तरह की गलती करना दर्शाता है कि इस विभाग में टीम अभी तक सही दिशा में नहीं हेेै।

Published 06 Feb 2020, 11:29 IST
Advertisement
Fetching more content...