Create
Notifications
Advertisement

भारतीय टीम के पूर्व मेंटल कोच का बयान, बोले- आईपीएल स्थगित होने से खिलाड़ियों पर काफी असर पड़ेगा

  • बीसीसीआई ने आईपीएल को 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया था
  • कोरोना वायरस के असर को रोकने के लिए देश में 14 अप्रैल तक लॉक डाउन किया गया है
CONTRIBUTOR
न्यूज़
Modified 06 Apr 2020, 17:43 IST

आईपीएल
आईपीएल

मार्च में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 3 वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला बारिश के कारण रद्द हुआ था, जबकि सीरीज के बाकी के दो मुकाबले कोरोना वायरस के बढ़ते असर को देखते हुए रद्द कर दिए गए थे। इतना ही नहीं इस वायरस के खतरे को देखते हुए बीसीसीआई ने आईपीएल को 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया था। ऐसे में वो खिलाड़ी जो टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करना चाहते थे या फिर जो अपनी प्रतिभा दिखाना चाहते थे, उन खिलाड़ियों को इससे सबसे बड़ा झटका लगा है। राजस्थान रॉयल्स के पूर्व कोच पैडी उपटन का भी यही मानना है कि ऐसे खिलाड़ी जिनके करियर की अभी शुरूआत नहीं हुई है, उन पर लॉक डाउन का ज्यादा असर पड़ेगा। 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व मेंटल कंडिशनिंग कोच उपटन ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा,"आईपीएल के स्थगित होने से काफी खिलाड़ियों पर इसका असर होगा। खासकर उन खिलाड़ियों पर जिनके करियर की अभी शुरुआत भर है। वह इस समय काफी कमजोर महसूस कर रहे होंगे। आईपीएल खिलाड़ियों के करियर में बहुत अहमियत रखता है, आर्थिक तौर पर भी।"

ये भी पढ़ें - बंद स्टेडियम में 21 दिन का टूर्नामेंट आयोजित कराने का विकल्प सही माना जा सकता है

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के असर को रोकने के लिए देश में 14 अप्रैल तक लॉक डाउन किया गया है। सभी लोग अपने घरों पर रहने को मजबूर हैं। ऐसे में खिलाड़ियों को डिप्रेशन का खतरा ज्यादा है। ऐसे में उपटन ने कहा कि मैं अपील करता हूं कि इस समय खिलाड़ी खुद पर नहीं दूसरों पर भी ध्यान दें और उनकी मदद करें। ऐसे समय में हमें जिंदगी को दूसरे तरीके से देखने की जरूरत है और खुद का ख्याल रखने की भी।

बता दें, इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने बीते दिनों ही एक मुहीम चलाई थी और लॉक डाउन के दौरान मानसिक तनाव को रोकने के लिए सरकार की इस पहल का रोहित शर्मा ने भी समर्थन किया है।


Published 06 Apr 2020, 17:43 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit